• Sat. Jun 25th, 2022

अधिकारी योजनाओं को पंचवर्षीए बनाकर कार्य न करें – कलेक्टर

Byadmin

Feb 15, 2021

अधिकारी योजनाओं को पंचवर्षीए बनाकर कार्य न करें – कलेक्टर
योजनाओं में गति न देने पर 2 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस, जिले के जेएसओ का वेतन आगामी आदेश तक रोकें
मुरैना 15 फरवरी 2021/ प्रदेश सरकार की योजनाओं को अधिकारी त्वरित गति से निराकरण करने के प्रयास करेें। मार्च नजदीक है, किसी भी विभाग की योजनाओं का बजट लैप्स नहीं होना चाहिये। अधिकारी ऐसे प्रयास करें कि योजनाओं में गति आये, पंचवर्षीए योजना बनाकर कार्य नहीं करें। ये निर्देश कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने सोमवार को टीएल बैठक के दौरान समस्त जिलाधिकारियों को दिये। इस अवसर पर उन्होंने 2 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस तथा पात्रता पर्ची शतप्रतिशत वितरण न होने पर जिले के समस्त जेएसओ का वेतन आगामी आदेश तक आहरित नहीं करने के निर्देश जिला कोषालय अधिकारी को दिये। बैठक में अपर कलेक्टर श्री उमेशप्रकाश शुक्ला, संयुक्त कलेक्टरी श्री संजीव जैन, श्री एलके पाण्डे, नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता, समस्त एसडीएम, समस्त जिलाधिकारी, सीएमओ, जनपद सीईओ एवं तहसीलदार उपस्थित थे।
कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने कोविड की समीक्षा की, जिसमें उन्होंने सीएमएचओ को निर्देश दिये कि प्रतिदिन 300 सेम्पल से कम नहीं होना चाहिये। उन्होंने कोविड वैक्सीन के संबंध में समीक्षा की, जिसमें दूसरे राउण्ड में जिले का वैक्सीनेशन 64 प्रतिशत रहा। जिसमें नगर निगम का 50 प्रतिशत, राजस्व का 49, पुलिस का 82, ग्रामीण विकास का 73 प्रतिशत कोविड वैक्सीन टीका लगाया। इस पर उन्होंने नगर निगम कमिश्नर को 17 एवं 19 फरवरी तक शतप्रतिशत टीका लगवाने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने जिले में शतप्रतिशत ईमनाईजेशन (टीकाकरण) हो, इसके लिये समस्त एसडीएम अपने-अपने क्षेत्रों में टीकाकरण करावें। किसी बच्चे की जिंदगी से खिलवाड़ न होने दें। उन्होंने कहा कि कैलारस में 85, पहाडगढ़ में 82, मुरैना में 79 प्रतिशत टीकाकरण बच्चों का हुआ है। यह स्थिति अच्छी नहीं है, मुझे प्लानिंग के साथ कार्य चाहिये। कम से कम 90 से 95 प्रतिशत टीकाकरण होना सुनिश्चित करें।
आयुष्मान कार्ड की समीक्षा की

कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने आयुष्मान भारत कार्ड की समीक्षा की, जिसमें 10 लाख 18 हजार 478 आयुष्मान कार्ड बनाये जाने थे, जिनमें मात्र आज दिनांक तक 4 लाख 2 हजार 888 कार्ड बनाये गये है। इसके लिये जिले में 280 लोंगो को कार्ड बनाने की टीम लगाई है। यह कार्य 31 मार्च तक पूर्ण करना है। इस धीमी गति से कार्य हुआ तो लक्ष्य कभी पूर्ण नहीं हो सकता। उन्होंने सभी 280 लोंगो को प्रतिदिन 50-50 कार्ड बनाने का लक्ष्य दिया है, तभी एक दिन में 14 हजार कार्ड बन सकेंगे। तभी हम 31 मार्च तक लक्ष्य पूर्ण कर पायेंगे।
कलेक्टर ने हाईरिस्क मदर, स्ट्रीट वेण्डर, मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण की समीक्षा की, जिसमें पहाडगढ़, अम्बाह, कैलारस, मुरैना, सबलगढ़ को 200-200, जौरा को 300 हितग्राहियों को इस सप्ताह बैंको द्वारा लाभान्वित किया जाना है। कलेक्टर ने बैंकलिकिंग की समीक्षा की, जिसमें उन्होंने अगले सप्ताह 200 समूहों को लाभान्वित करने के निर्देश दिये।
कलेक्टर ने पोषण पुर्नवास, पोषण आहार एवं आंगनवाड़ी केन्द्र खुलने की समीक्षा की, जिसमें उन्होंने समस्त एसडीएम, जनपद सीईओ को निर्देश दिये कि आंगनवाड़ियों में प्रतिदिन नाश्ता आदि वितरण हो, इसके लिये एक-एक घंटे का समय निकालकर आंगनवाड़ियों की माॅनीटरिंग व निरीक्षण अवश्य करें। कलेक्टर ने आंगनवाड़ी भवन निर्माण की समीक्षा की, जिसमें उन्होंने कहा है कि 34 आंगनवाड़ी केन्द्रों में से 8 आंगनवाड़ियों का पैसा वापस किया जा चुका है। 26 का स्थल चयन कर कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। इस कार्य को प्राथमिकता दें।

खाद्यान्न समय पर शतप्रतिशत वितरण हो
कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि राशन वितरण में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी। हितग्राही को राशन समय पर मिले, इसके लिये जेएसओ पूरे दिन माॅनीटरिंग कर राशन समय पर वितरण करायें। उन्होंने कहा है जिले में 2 लाख 21 हजार 184 टोटल कार्ड धारी है, जिसमें कल्याणी महिलाओं को चिन्हित करें, वे महिलाओं राशन लेने नहीं आती है तो उनके घर तक पहुंचाने के लिये लिस्टिंग बनाये।
नवीन पात्रता पर्ची की हुई समीक्षा
कलेक्टर ने कहा कि जिले में नवीन पात्रता पर्ची मात्र 74 प्रतिशत वितरित हुई है, जिन्हें शतप्रतिशत वितरण किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि इसका सर्वे किया जाये कि कितने ऐसे व्यक्ति है, जो खाद्यान्न नहीं ले रहे है और ऐसे कितने व्यक्ति है, जो पात्रता धारी नहीं है तथा ऐसे कितने पात्रता पर्चीधारी है, जिनकी गलती से पर्ची बनाई गई है। उन्होंने 74 प्रतिशत पात्रता पर्ची वितरण करने पर जिले के समस्त जेएसओ का वेतन आगामी आदेश तक रोकने के निर्देश दिये तथा खाद्य नियंत्रण अधिकारी श्री भीकम सिंह तोमर को कारण बताओ नोटिस तथा 3 दिन का वेतन काटने के निर्देश दिये।
पंजीयन में तेजी लायें
कलेक्टर ने कहा है कि रबी विपणन वर्ष 2021-22 के लिये पंजीयन का कार्य 20 फरवरी तक 67 केन्द्रों पर किया जाना है, जिसमें अभी तक मात्र 10 हजार 771 किसानों का पंजीयन किया गया है, जबकि जिले का कुल रकवा 24812.98 हेक्टेयर सिंचत, असिंचत क्षेत्र में फसलें बोई गई है। जबकि पिछले वर्ष 48 केन्द्रों पर गेहूं का 19 हजार 673, सरसों का 20 हजार 233 और चना का 386 कृषकों ने पंजीयन कराया था।
उन्होंने बताया कि अभी तक जिले में गेहूं का 8 हजार 710, चना का 2 हजार 68, सरसों का 8 हजार 99 किसानों का पंजीयन हुआ है।
बायोगैस प्लांट की भी समीक्षा की
कलेक्टर ने जिले में 90 बायोगैस की समीक्षा की। जिनमें अभी तक 40 बायोगैस बनाये गये है, इस सप्ताह 30 और बायोगैस बनाने का आश्वासन सहायक संचालक कृषि श्री बीडी नरवरिया ने दिया।
उन्होंने उद्यानिकी विभाग की समीक्षा की, जिसमें फल उद्यान नरेगा के तहत डीपीआर 24 में से 18 स्वीकृत की गई थी तथा 5 पर कार्य प्रारंभ होना बताया। इस पर कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा है कि ऐसे किसानों का चयन करें, जिनके पास सिंचाई के साधन हो, फसल कटने के बाद वह फल उद्यान तैयार कर सकें। मैं एक भी शब्दों को नहीं सुनूंगा कि पौधे नहीं मिले थे, फसल नहीं कटी है या जिन किसानों का चयन किया है उनके पास सिंचाई के साधन नहीं है। यह सुनिश्चित करना उद्यानिकी अधिकारी का होगा। अधिकारी इस प्रकार की धीमी गति से योजनाओं में कार्य न करें, जो पंचवर्षीए योजना बनकर रह जाये।
पीएम स्वनिधि योजना की समीक्षा की
कलेक्टर ने कहा है कि जिले में 10 हजार 614 लोंगो को प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर निधि योजना से लोंगो को लाभान्वित करना था, जिसमें जिले की प्रगति की 55.05 पर है। इसे लक्ष्य मानकर और बढ़ाया जाये। उन्हांेने रोजगार मेले के लिये जिला रोजगार अधिकारी को फरवरी माह में 500 का टारगेट दिया, इसके लिये उन्होंने जीएम डीआईसी को भी सहयोग प्रदान करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने सीएम माॅनीटरिंग की समीक्षा की, जिसमें डिप्टी कलेक्टर श्री सुरेश बराहदिया प्रजेन्टेशन की स्लाइड प्रस्तुत न कर सकें । इस पर उन्होंनें कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।

जितनी शिकायतें आ रहीं है, उससे ज्यादा निराकरण किया जाना सुनिश्चित करें – कलेक्टर
4 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस
मुरैना 15 फरवरी 2021/ कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा की। जिसमें कैलारस जनपद सीईओ द्वारा सीएम हेल्पलाइन को खोलकर ही नहीं देखा। इस पर उन्होंने जनपद सीईओ कैलारस को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जितनी सीएम हेल्पलाइन आ रहीं है, उसकी क्षमता से अधिक निराकरण होगा तभी हम सीएम हेल्पलाइन को कम कर पायेंगे। उन्होंने पीएचई विभाग में 229 शिकायतें समीक्षा में पाई। उन्हें कारण बताओ नोटिस, डीएफओ द्वारा सीएम हेल्पलाइन का निराकरण नहीं करने पर कारण बताओ नोटिस तथा आईटीआई प्राचार्य श्री सोलंकी बैठक से अनुपस्थित रहने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही सीएमओ कैलारस द्वारा 16 शिकायतों का निराकरण नहीं करने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। ये निर्देश उन्होंने सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा के दौरान सोमवार को बैठक के दौरान दिये। बैठक में अपर कलेक्टर श्री उमेशप्रकाश शुक्ला, संयुक्त कलेक्टरी श्री संजीव जैन, श्री एलके पाण्डे, नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता, समस्त एसडीएम, समस्त जिलाधिकारी, सीएमओ, जनपद सीईओ एवं तहसीलदार उपस्थित थे।

रिक्रूटमेंट ड्राइव 117 फरवरी को दो कंपनियां भर्ती करेंगी
मुरैना 15 फरवरी 2021/ जिला रोजगार कार्यालय मुरैना के तत्वाधान में 17 फरवरी 2021 को रिक्रूटमेंट ड्राइव 17 फरवरी 2021 को जिला रोजगार कार्यालय परिसर चंबल काॅलोनी मुरैना में आयोजित होगा। रिक्रूटमेंट के लिये दो कंपनियां आयेंगी। इस कंपनी द्वारा सेल्स एक्जीक्यूटिव के 50 पद पर भर्ती की जायेगी जिसका वेतनमान 10 हजार से 20 हजार रूपये होगा। इस पद के लिये अभ्यर्थी की आयु 18 से अधिक होना चाहिये। अभ्यर्थी की योग्यता 10 से उपर उत्तीर्ण होना चाहिये।
दूसरी कंपनी जी फोर सिक्युरिटी गार्ड गुड़गांव आयेगी पर कंपनी सिक्यूरिटी गार्ड के लिये 100 पदों पर भर्ती करेगी। इसका वेतनमान 10 हजार से 13 हजार होगा। उम्मीदवार की आयु 18 से 25 वर्ष के बीच और योग्यता हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्ड्री 10$2 होना चाहिये। भर्ती के समय उम्मीदवारों को अपने साथ सभी प्रमाणपत्र लाना होंगे। सभी को कोरोना 19 का पालन करते हुये दो गज की दूरी मास्क का उपयोग करते हुये भर्ती में भाग लेना होगा।

8 आरोपियों से 409.42 बल्क लीटर देशी, 201.68 बल्क लीटर विदेशी शराब जब्त की
500 टी.पी. बल्क लीटर, 1 हजार 897 किलोग्राम लहान जब्त किया
मुरैना 15 फरवरी 2021/ नशा माफियाओं की घेराबंदी करने के लिये मुहिम जारी है। जिले में 11 जनवरी से 20 जनवरी 2021 तक आबकारी विभाग और पुलिस की टीम द्वारा 80 प्रकरण पंजीबद्ध किये है, जिनमें 24 प्रकरण आबकारी और 56 पुलिस विभाग द्वारा पंजीबद्ध किये है।
आबकारी विभाग द्वारा 24 पंजीबद्ध प्रकरणों में 8 आरोपियों से 402.42 लीटर देशी और 201.68 बल्क लीटर विदेशी शराब जब्त की गई है। 10 बल्क लीटर कच्ची हाथ भट्टी और 108 किलोग्राम लहान जब्त किया गया है। इसका अनुमानित मूल्य एक लाख रूपये बताया गया है। पुलिस प्रशासन द्वारा 500 बल्क लीटर टी.पी, 1 हजार 717 किलोग्राम लहान जप्त किया, जिसका अनुमानित मूल्य 10 लाख 36 हजार 62 रूपये बताया गया है।
आबकारी और पुलिस प्रशासन द्वारा मिलकर अनुमानित 14 लाख 74 हजार 306 रूपये की अनुमानित मूल्य की मदिरा जप्त की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort