• Wed. May 25th, 2022

अपनी शक्ति को पहचानो .

Byadmin

Feb 19, 2021

महापुरुषों की देव देवता की जयंती हम सब बड़े ही धूम धाम कर एक दिवसीय मना लेते है . काफ़ी लोग इस दिन की फिराक मे रखते है की जयंती के बहाने अपनी पिक्चर चेहरा सोशल मीडिया पर प्रचारित कर लू 🤔महा पुरुष की पिक्चर छोटा अपनी पिक्चर बड़ा कर प्रचार करते है 🤔 एक दिवसीए जयंती मना याद कर कल को भूल जाते है 🤔 ऐसा भीड़ है हिन्दू की महा पुरुषो की जयंती मनाता है पर उनकी अच्छाई से कुछ नहीं सीखता न ही स्वयं मे महा पुरुष की आचरण लाने की बदलाव लाता 🤔 महा पुरुष अपनी अच्छाईओ के लिए आजतक पूजे जाते है उनकी अच्छाई से तुममें कितनी जीवन की परिवर्तन आई कितनी सच्चाई है तुममें कितने सत्य की संघर्ष करते हो यह मायने रखता है
धर्म मे देव देवता व महा पुरुषओ सहित धर्म योद्धा की लाखो करोड़ो नाम है दुनिया की हर कौम पंथ मजहब कबीला वाले मात्र एक दो दस नाम पर इतराते है और शान दिखाते है जबकि कौम पंथ मजहब कबीले वाले के आदर्श सिर्फ अपने कौम के लिए ही युद्ध लड़ा या कहे तो संघर्ष किया अन्य से पर सनातन धर्म की सतयुग , द्वापर , त्रेता , कलयुग मे ऐसे देव देवता देवी , राजा , योद्धा , सेनापति , सहित महा पुरुष हुए की हम सनातनी पूरी लिस्ट नहीं बना पायेगे 🙏 पर आज दुनिया मे सबसे बड़ा दुर्दसा सनातनी की साथ ही हो रहा . तुम साधु संत सन्यासी हो महादेव ,आदि गुरु शंकराचार्य, गुरु गोरखनाथ के विचार पर कितना चलते हो तुम क्षेत्रीय हो राम के विचारों पर महा राणा प्रताप , सहित लाखो विर योधा राजाओं के विचार पर कितना चलते हो तुम ब्राह्मण हो परशुराम जी के विचारों पर कितना चलते हो अनेको राजा हुए देव हुए देवता हुए कितना चलते हो तुम राजा यदु के बंसज यादव हो तुम कृष्ण की मार्ग पर कितना चलते हो तुम हिन्दुओ की भिन्न भिन्न जाती से आते हो तुम चाणक्य से , सूरजमल से तुम दलित हो वाल्मीकि , रविदास सहित अनेको पूजनीय से क्या सीखते हो क्या परिवर्तन लाय हो हिन्दू की हर जाती सनातन के कमरे है तो सनातन इसकी छत रूपी भवन 🙏 भारतवर्ष के हर राज्यों मे भाषा, व परम्परा है तुम अपने अपने राज्यों पर भी गर्व करते हो तो हर राज्यों मे भी महा पुरुष हुए मुग़ल काल हो अंग्रेज काल हो या आजादी के बाद या अब या सतयुग द्वापर त्रेता कलयुग मे अपनी इष्ट देवो महा पुरुषो , व क्रन्तिकारीओ से तुममें कितनी जीवन जीने को सीखा या बस उनके नाम उनके कुल उनके राज्यों उनके जाती से होने की ही मात्र तुम्हे डिंग हाकने की आजादी है . पिता से बच्चे सीखते है जीवन जीने को तो हमारे देव देवता , महा पुरुष , क्रन्तिकारी , भी हमारे जीवन की ही एक किताब है जिन्हे पढ़ कर समझ कर सिख कर तुम जीवन ही नहीं भारत भूमि ही नहीं अपने धर्म सनातन को पुनः विश्व मे सम्मान दिला सकते हो 🙏 ज़ब सिखने लगे चलने लगे तो न तुम्हे नेता की आवश्यकता होती न ही किसी और की तुम स्वयं एक योधा होंगे और तुम भी इतिहास मे नाम सम्मान के साथ लिए जाओगे . 🙏 हर सनातनी मे परमात्मा की वास है बस अध्ययन करो मनन करो अपनी शक्ति को पहचानो . 🙏🙏🙏अपना आदर्श नेता को नहीं अपना आदर्श किसी भांड बॉलीबुड क्रिकेटर को बना कर चलना बंद करो तुमरे पास आइकोंन बनाने के लिए चार युग मे करोड़ो आदर्श है जिसे भी तुम आदर्श बना लो वो बेरापार कर देंगे तुमरी व जीवन की समाज व सनातन धर्म की 🙏जय सनातन 🙏

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort