• Sun. Jun 26th, 2022

अभिनेत्री या female acteress :-:

Byadmin

May 20, 2022

:-: अभिनेत्री या female acteress :-:
भरत मुनि रचित नाट्य शास्त्र एवं धनंजय रचित दशरूपकम (10 वी सदी में ) ग्रंथ में अभिनेता के साथ साथ अभिनेत्री के भेद,अवस्थाएं,गुण आदि का विस्तारपूर्वक वर्णन दिया गया हैं,
तो फिर किस आधार पर यह कहा गया कि सनातन संस्कृति में महिलाओं को अभिनय करने का अधिकार नहीं था।भरत मुनि के नाट्य शास्त्र में 24 अप्सराओं का उल्लेख मिलता हैं।वैदिक गुरुकुल के पतन के बाद व पश्चिमी संस्कृति के उदय के कारण महिलाओं से उनका अभिनय करने का अधिकार छीना गया क्योंकि पश्चिम व अन्य सम्प्रदायों में महिलाओं को पुरुषों से कम आंका जाता हैं, जिसका प्रभाव आज भी पश्चिम जीवनशैली में देखा जा सकता हैं।मुस्लिम व ईसाइयों के शासनकाल के समय महिलाओं से उनके मूलभूत अधिकार छीने गए और बाद में आए इतिहासकारों ने कि चापलूसी के चलते ,महिला शोषण की बातों को सनातन संस्कृति व ब्राह्मणों पर डाल दिया। नाट्यशास्त्र व दशकरूपम जैसे ग्रंथ ब्राह्मणों की ही देन हैं।ब्राह्मण समानतावादी थे।विजय सत्य की ही होगी।
धन्यवाद :- बदला नहीं बदलाव चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort