• Tue. May 24th, 2022

कलेक्टर ने दूरस्थ अंचल ग्राम धोंधा और गैतोली में पहुंचकर योजनाओं को परखा

Byadmin

Feb 17, 2021

कलेक्टर ने दूरस्थ अंचल ग्राम धोंधा और गैतोली में पहुंचकर योजनाओं को परखा
आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और एएनएम को कारण बताओ नोटिस
मुरैना 17 फरवरी 2021/प्रदेश सरकार की संचालित कल्याणकारी योजनाओं का अन्तिम छोर तक के लोंगो को लाभ मिले। इस मकसद से कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने पहाडगढ़ विकासखण्ड के सूदर अंचल आदिवासी बाहुल्य ग्राम धोंधा और गैतोली में पहुंचकर प्रदेश की संचालित कल्याणकारी योजनाओं का जायजा लिया। वे बुधवार को मुरैना जिले के सुदूर ग्रामों में पीएचई, महिला बाल विकास विभाग, फूड और ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों के साथ पहुंचे थे। इस अवसर जौरा एसडीएम श्री नीरज शर्मा, ईपीएचई श्री आरएन करैया, जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी श्रीमती उपासना राय, नायब तहसीलदार श्री रवीस भदोरिया और फूड विभाग के पहाडगढ़ जेएसओ उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन सर्वप्रथम ग्राम धोंधा में ग्रामीणों के बीच पहुंचे। जहां उन्होंने संचालित कल्याणकारी योजनाओं कल्याणी पेंशन, राशन, नामान्तरण, बटवारा, भूमि विवाद, बीपीएल जैसे विभिन्न बिन्दुओं पर ग्रामीणों के बीच रूबरू होकर चर्चा की। जिसमें श्रीमती विमला पत्नि विद्याराम कैलारस निवासी अपने मायके में पति की प्रताड़ना से रह रही थी, कलेक्टर ने जेएसओ को उसका नाम पात्रता पर्ची में जोड़कर धोंधा गांव में राशन देने के निर्देश दिये। वहीं कई आवेदन वृद्धावस्था पेंशन, बीपीएल के प्राप्त हुये, जिन आवेदनों को कलेक्टर ने नायब तहसीलदार श्री रबीस भदोरिया को मार्क कर प्रस्तुत किया और सोमवार को टीएल बैठक में वस्तुस्थिति अवगत कराने के निर्देश दिये।

धोंधा ग्राम में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व एएनएम को कारण बताओ नोटिस
कलेक्टर ने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता धोंधा का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 0 से 5 वर्ष तक के 37 बच्चे और 30 बालिकायें रजिस्टर पर दर्ज पाई, किन्तु मौके पर ये बच्चे उपस्थित नहीं थे। कलेक्टर ने इन बच्चों के कुपोषण की जानकारी चाही, इस पर 3 बच्चे 5 वर्ष के ऊपर के आये, जो कुपोषण की श्रेणी में नहीं थे। कलेक्टर ने आंगनवाड़ी केन्द्र पर कुपोषित बालक आर्यन धाकड़ को देखा, जो कुपोषण की श्रेणी में था। कलेक्टर उसके घर पहुंचे और बच्चे को दी जाने वाली खुराक आदि का अवलोकन किया। जिसमें आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सुषमा धाकड़ और एएनएम दीप्ती निरंजन द्वारा कुपोषण की दवा नियम के अनुसार नहीं दी। इस पर कलेक्टर ने दोंनो को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने मध्यान्ह भोजन एवं टीएचआर गर्भवती महिलाओं को दिये जाने की पैकेट का निरीक्षण किया। धोंधा में मात्र 6 महिलायें गर्भवती होने की बात आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने बताई। कलेक्टर ने हाईरिस्क मदर व दिये जाने वाले पोषण आहार आदि का अवलोकन किया।
कलेक्टर ने धोंधा गौशाला को देखा 15 मार्च तक पूर्ण करने के दिये निर्देश

ग्राम धोंधा में 30.80 लाख रूपये की लागत से निर्माणाधीन गौशाला का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने 15वे वित्त के तहत 1 बोर कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने कहा है कि इस गौशाला की क्षमता कितने पशु रखने की है। इस पर निर्माण शाखा देख रहे सब इंजीनियर ने बताया कि 100 आवारा गौवंश रखा जा सकता है। यह कार्य 15 मार्च तक पूर्ण कर लिया जावेगा। कलेक्टर ने बिजली, संचालन आदि एजेन्सी अभी से तय की जावे।
नल-जल योजनाओं के कार्य को देखकर कलेक्टर ने प्रशंन्नता जाहिर की
कलेक्टर ने ग्राम धोंधा में एक करोड़ 60 लाख रूपये की लागत से नल-जल योजना का अवलोकन किया। जिसमें 4 हजार आवादी के गांव में 1200 कनेक्शन देने की बात ईपीएचई श्री आरएन करैया ने कही। उन्होंने बताया कि यह कार्य 6 माह का समय तय किया गया है, किन्तु अगले माह पूरे गांव में पाइप लाइन के माध्यम से जल प्रदाय कर दिया जावेगा। ग्रीष्म ऋतु में पानी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध रहेगा। इस पर कलेक्टर ने प्रशंन्नता जाहिर की।

कलेक्टर ने ग्राम गैतोली में पीडीएस की दुकान का किया निरीक्षण
मुरैना जिले केे पहाडगढ़ विकासखण्ड के अन्तिम छोर के ग्राम गैतोली में पीडीएस की दुकान का निरीक्षण किया, जिसमें दुकान संचालक ने बताया कि इस माह राशन अभी आवंटित नहीं हुआ है। जनवरी माह का 877 कार्डो पर राशन वितरित किया जा चुका है। जिसमें प्रति व्यक्ति को एक किलो चावल, 4 किलो गेहूं और प्रति परिवार को एक लीटर केरोसीन और एक किलो नमक दिया जा रहा है। कलेक्टर ने स्टाॅक रजिस्टर एवं ग्रामीणों से मौके पर रूबरू होकर राशन वितरण की जानकारी ली। जिसमें ग्रामीणों ने जनवरी माह तक नियमित राशन मिलने की बात कलेक्टर ने कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort