• Wed. May 25th, 2022

कृपया राष्ट्र हित में पोस्ट को पढ़े और चिंतन अवश्य कीजिए…

Byadmin

Dec 18, 2020

कृपया राष्ट्र हित में पोस्ट को पढ़े और चिंतन अवश्य कीजिए

(१) ट्रैक्टर वैनिटी (ब्यूटी पार्लर)
(२) मोबाइल बाथरूम टॉयलेट
(३) पैरों के मसाज की मशीने
(४) बॉडी मसाज पार्लर, पिज़्ज़ा पार्लर, जिम
(५) अत्याधुनिक रसोई की मशीनें
(६)४००० जनरेटर सेट, सेंसर लाइट
(७) धोबी और कपड़ों को प्रेस करने की सुविधा
(८) ऑटोमेटिक जूता पोलिश मशीनें
(९) बीयर बार, लाइटिंग वाले पंडाल, नए कपड़ों में से बनाए पेटी पैक शामियाने-कपड़ों के तंबू
(१०) एकदम नई मैट्रेस सेट, बैक सपोर्ट के साथ
(११) पानी के टैंकर, मिनरल वाटर की बोतलें, सब्जी, दूध, चीज, मक्खन, पनीर जैसे चीज के बड़े भंडार
(१२) काजू बादाम किशमिश और बाहर के देशों में मिलने वाले कीमती ड्राई फ्रूट
(१३) 6 महीने का राशन

ऐसे आंदोलन कभी देखे हैं दुनिया में?

इसको बोलते हैं फाइव स्टार आंदोलन

किसानों का आंदोलन क्या है उसकी मांगे क्या है ?

और वास्तविकता में यह लोग क्या मांग रहे हैं?

देश विरोधी नारे लगा रहे हैं, पोस्टर दिखा रहे हैं!

प्रधानमंत्री के मरने की दुआ कर रहे हैı

पहले यह समझिए कि ऐसे आयोजन करने के लिए पैसा और अपना समय देने वाले लोग (जो मुफ्त में कतई नहीं मिलते) कहा से आ रहे है…..

इस आंदोलन को करने के लिए इतनी तैयारी क्यों है?

थोड़ा दिमाग लगाइए.

अगर सरकार इस बिल को वापस ले लेती तो सी ए ए/धारा ३७०/३५-, आने वाला जनसंख्या नियंत्रण बिल, समान नागरिक धारा जैसे कई कानून को वापस खींचने का रास्ता साफ हो जाता है ।….

इतनी कुर्बानिया देकर जम्मू कश्मीर के धारा 370 के खारिज बिल को बापिस लेने की मुहीम शरू हो जाएगीı

अगर किसानों को इस बिल से नाराजगी है तो वह सर्वोच्च न्यायालय क्यों नहीं जाते?

किसान/अंबानी/अदानी के नाम पर इमोशनल ब्लैकमेल का अत्याचार क्यों?

देश की राजधानी को घेर कर पंगु बना दिया

एक आंदोलन करने के लिए इतने युद्ध स्तर पर तैयारी क्यों?

एमएसपी की मांग सरकार लिखित में स्वीकार कर चुकी है तो फिर हर रोज नई मांगों का ड्रामा क्यों?

क्या इसके बाद भी आपको लगता है कि यह आंदोलन गरीब किसानों का आंदोलन है?….

आप किसी भी विचारधारा को मानते हो लेकिन यह राष्ट हित का सवाल है, कृपया खुद जागरूक होकर देश के टुकड़े होने से बचाएं और सभी को सच्चाई से रुबरु कराइये 🙏🏻

We all Respect FARMERS as Our ANNDATA…🙏

But Cannot Allow AntiNationals to Hijack the Movement against our National Interests..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort