• Sat. Jun 25th, 2022

केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने मुरैना जिले के स्व-सहायता समूहों की प्रशंसा की

Byadmin

May 25, 2021

केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने मुरैना जिले के स्व-सहायता समूहों की प्रशंसा की
मुरैना 25 मई 2021/केंद्रीय मंत्री एवं मुरैना-श्योपुर के सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने मध्यप्रदेश डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन जिला पंचायत मुरैना के द्वारा संचालित स्व-सहायता समूहों की प्रशंसा की। जिले में स्व-सहायता समूह कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रोशन कुमार सिंह के मार्गदर्शन में समूहों का गठन कर उन्हें गाइडलाइन दी। जिसके तहत उन्होंने कोविड़-19 की रोकथथाम हेतु किल कोरोना के तहत स्व-सहायता समूहो की दीदियों द्वारा सराहनीय कार्य किया है। किये गये कार्यो की समाचार पत्रों की कटिंग व फोटो को केन्द्रीय मंत्री को डीपीएम श्री दिनेश तोमर ने अवगत कराया।
उस समय केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने मुरैना जिले के स्व-सहायता समूहों की भूरि-भूरि प्रशंसा की और कोविड जैसी आपदा महामारी में समूहों के द्वारा जो सराहना की गई।

प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप की बैठक संपन्न
मुरैना 25 मई 2021/ प्रदेश स्तर की गाइडलाइन के अनुसार कोविड प्रभावित जिले 31 मई 2021 को प्रातः 6 बजे तक कोरोना कफ्र्यू लगाया गया है। इसके अलावा जिलों के जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में क्राइसेस मैनेजमेन्ट की बैठक के सदस्य जो निर्णय लेंगे। उसके आधार पर जिले में बाजार खोले जायेंगे। गत दिवस नवीन कलेक्ट्रेट सभागार मुरैना में प्रदेश के खाद्य प्रशंस्करण एवं मुरैना जिले के प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह की अध्यक्षता में जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेन्ट की बैठक संपन्न हुई। बैठक में जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट के सदस्यों ने निर्णय लिया कि मुरैना जिले में विगत दिनों अच्छी बारिस हुई है। बारिस के शुभ संकेत मिलने से किसान के लिये यह समय अमूल्य रहता है। इसके लिये जिले में खाद्य एवं बीज की दुकानें 25 मई से खोल दी जायें। शेष बाजार खोलने के लिये अगली क्राइसेस मैनजमेन्ट की बैठक के निर्णय के बाद धीरे-धीरे खोलने पर विचार किया जाये।
प्रभारी मंत्री श्री कुशवाह ने कहा है कि बाजार खोलते समय यह भी सुनिश्चित किया जाये कि अम्बाह-पोरसा से लगा हुआ उत्तरप्रदेश मुरैना, सबलगढ़, कैलारस से जुड़े हुये राजस्थान के कई गांव लगते है। वहां की स्थिति देख ली जाये कि वहां किस स्थिति में कोविड के केस निकल रहें है। ऐसा न हो कि वहां कई गांव या शहर हाॅटपाॅट बनें हुये हों, जब अपने यहां बाजार खुलने पर विचार हो, तब वहां के लोग शाॅपिंग के लिये अपनी ओर न दौड़े। उनके आने से अपने यहां की हालत खराब हो सकती है। अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि अपने-अपने क्षेत्र से जुड़े अंर्तराज्यीय के गांव के लोंगो के कोविड की जानकारी होनी चाहिये। बैठक में जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट के सदस्यों ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किये।
इस अवसर पर कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन, सीईओ जिला पंचायत श्री रोशन कुमार सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री योगेशपाल गुप्ता, पूर्व मंत्री श्री गिर्राज डंडोतिया, पूर्व विधायक श्री रघुराज सिंह कंषाना, नगर निगम कमिश्नर सहित जिले के संबंधित जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप के सदस्य उपस्थित थे।

नगर निगम कमिश्नर ने इमलिया क्षेत्र में नाले की सफाई अभियान चलवाया
मुरैना 25 मई 2021/ बरसात को ध्यान में रखते हुये सभी नाले एवं नालियां साफ रहें, इसलिये नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता ने निगम के अन्तर्गत सफाई अभियान का कार्य प्रारंभ किया है। जिसमें इमलिया क्षेत्र के अन्तर्गत नाले की सफाई अभियान चलाया गया। यह अभियान जेसीबी के माध्यम से किया गया।

पीएससी एवं सीएससी पर आॅक्सीजन उपलब्ध रहें – चंबल कमिश्नर श्री सक्सेना
मुरैना 25 मई 2021/ चंबल-ग्वालियर कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना ने कहा है कि कोविड अभी गया नहीं है, इसके लिये अभी भी सतर्कता बरतें। प्रदेश के मुख्यमंत्री 1 मई से जिलों को अनलाॅक करने की प्लानिंग कर रहीं है। अनलाॅक में किस तरह बाजार खोलने है, इसकी प्लानिंग अधिकारी पहले से बनायें। इसके लिये व्यापारियों की सलाह अवश्य लें। जो क्षेत्र हाॅटपोट बनें हुये है, उन क्षेत्रों में पर अभी भी निगरानी बनायें रखें। किल कोरोना अभियान-3 का सर्वे चल रहा है। इस अभियान में जितने लोग चिन्हित किये गये है, उन लोंगो का टेस्टिंग शतप्रतिशत् होनी चाहिये। एक भी व्यक्ति पाॅजीटिव होकर हमारी पहंुच से छूट जाता है तो वही क्षेत्र हाॅटपोट बन जायेंगा। इसके लिये अधिकारी प्लानिंग के साथ आने वाले दिनों में सतर्कता बरतें। चंबल कमिश्नर श्री सक्सेना ने कहा कि इस समय किसान को खाद-बीज की आवश्यकता है। इसलिये खाद-बीज की दुकानें खुलंे, उन पर किसी भी प्रकार का प्रतिबंध नहीं रहे। ये निर्देश उन्होंने सोमवार को गूगल मीट के माध्यम से चंबल एवं ग्वालियर संभाग के कलेक्टरों, सीईओ जिला पंचायत एवं सीमएचओ को दिये। गूगल मीट के माध्यम से मुरैना कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन सहित अन्य जिलो के कलेक्टर, सीमएचओ गूगल मीट से जुड़े हुये थ
चंबल कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि अधिकारी इस प्रकार का सिस्टम बनायें कि कोविड वैक्सीनेशन में किसी भी प्रकार की लाइनिंग लगाने की जरूरत न पड़े। लोग लंबी-लंबी लाइनें लगाकर वैक्सीनेशन करायेंगे तो एक-दूसरे से सोशल डिस्टसिंग का पालन नहीं हो सकेगा। उन्होंने कहा कि अभी भी पीएससी एवं सीएससी पर आॅक्सीजन रहे। इस प्रकार के प्रबंध अभी पुख्ता रहें। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में एक मई से बाजार अनलाॅक होने वाले है। इसलिये व्यापारियों के साथ बैठक करें और उन्होंने सोशल डिस्टेसिंग के संबंधित में भी बतायें। ऐसा न हो कि बाजार अनलाॅक होने पर कोविड-19 के नियमों का दुकानदार एवं ग्राहक पालन न करें, जिससे स्थिति अनियंत्रित न हों।

उपार्जन में इश्यू हुआ तो सोसायटी संचालकों पर होगी कार्रवाही – कलेक्टर
गेहूं खरीदी 28 मई तक
मुरैना 25 मई 2021/ कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने कहा है कि जिले में 28 मई 2021 तक खरीदी कार्य किया जायेगा। इसके लिये मात्र 26,27,28 मात्र 3 दिन शेष है। जो किसान शेष है, उनके एसएमएस भेज दिये जायें। ऐसा न हो कि सभी एसएमएस एक साथ भेजे जायें तो सोसायटियों पर भीड़ इकट्ठी हो जाये। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम इन 3 दिनों में अपनी-अपने क्षेत्र की सोसायटियों पर निगरानी बढ़ा दें। सोसायटियों पर जो भी नोडल लगाये गये है, वे 3 दिन पूरे समय खरीदी केन्द्रों पर मौजूद रहें। कलेक्टर ने कहा कि एसडीएम प्रत्येक सोसायटी बार आज ही बैठक बुलायें और खरीदी केन्द्र संचालक से इस प्रकार का प्रमाणपत्र लें कि उस खरीदी केन्द्र पर अब कितने किसान शेष रह गये है। इसके बाद इन 3 दिनों में किसी भी खरीदी केन्द्र पर कोई भी इश्यू बनता है तो सोसायटी संचालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाही होगी। ये निर्देश कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने मंगलवार को नवीन कलेक्ट्रेट सभागार मुरैना में गूगल मीट के माध्यम से अधिकारियों को दिये। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्री संजीव जैन, सीमएचओ डाॅ. एडी शर्मा सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी तथा गूगल मीट से जुड़े जिले के समस्त एसडीएम, समस्त बीएमओ और कोविड से जुड़े समस्त जिलाधिकारी शमिल थे।
बैठक में खरीदी केन्द्र के नोडल संयुक्त कलेक्टर श्री संजीव कुमार जैन ने बताया कि जिले में कुल पंजीक्रत किसान 37 हजार 533 पाये गये थे, जिनमें 10 हजार 229 किसानों की खरीदी का कार्य किया गया है। किसानों की खरीदी प्रतिशत 27 है। जिले में 55 हजार 443 मैट्रिक टन खरीदी की जा चुकी है, जबकि 50 हजार 453 मैट्रिक टन खरीदी ट्रान्सपोटेशन हो चुका है। उन्होंने बताया कि जिले में 109 करोड़ रूपये की खरीदी हुई है। जबकि 62 करोड़ रूपये का भुगतान किया जा चुका है।
इस पर कलेक्टर ने बताया कि 28 मई 2021 को मात्र 5 दिन की खरीदी का भुगतान शेष रहना चाहिये। मुझे किसी भी सोसायटी की इस प्रकार की शिकायत नहीं आनी चाहिये कि टोकन दिया, खरीदी नहीं हुई। कलेक्टर ने पीडीएस वितरण की जानकारी प्रत्येक एसडीएम से प्राप्त की और स्पष्ट निर्देश दिये कि मुझे एक भी पीडीएस दुकान संचालक की शिकायत नहीं मिलना चाहिये। कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाइन की भी समीक्षा की।

शहरी क्षेत्रों के अपेक्षा ग्रामीण क्षेत्रों की टेस्टिंग में अधिकारी तेजी लायें – कलेक्टर
बैठक में नूरावाद बीएमओ गूगल मीट से नहीं जुड़े होने पर कारण बताओ नोटिस
मुरैना 25 मई 2021/ कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने जिले के समस्त एसडीएम, स्वास्थ्य अधिकारी एवं कोविड के जुड़े समस्त अधिकारियों को निर्देश दिये कि कोविड के केस कम निकल रहंे है, ऐसा न समझे कि कोविड समाप्त हो चुका है। अब केस शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ रहे है, इसलिये शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के लोंगो की टेस्टिंग बढ़ाये। जिन गांवों में लोग कोविड के पाॅजीटिव आ रहंे है, उन गांवों में विषेशकर निगरानी बढ़ाई जाये और वहां सस्पेक्टेट व्यक्तियों की टेस्टिंग अवश्य करायें। कलेक्टर ने कहा कि किल कोरोना अभियान-3 चल रहा है। इस अभियान का मतलब यही है कि घर-घर सर्वे के दौरान जो लोग सस्पेक्टेट पाये जा रहें है, उनकी टेस्टिंग अवश्य कराये। ये निर्देश कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने मंगलवार को नवीन कलेक्ट्रेट सभागार मुरैना में गूगल मीट के माध्यम से अधिकारियों को दिये। बैठक में संयुक्त कलेक्टर श्री संजीव जैन, सीमएचओ डाॅ. एडी शर्मा सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मी तथा गूगल मीट से जुड़े जिले के समस्त एसडीएम, समस्त बीएमओ और कोविड से जुड़े समस्त जिलाधिकारी शमिल थे।
बैठक के दौरान कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन ने प्रत्येक विकासखण्डवार कोविड की समीक्षा की। जिसमें एसडीएम, बीएमओ, जनपद सीईओ से बारी-बारी से फीडबैक लिया और स्पष्ट निर्देश दिये कि कहीं भी एक वार्ड या एक गांव में 5-5 से अधिक लोग कोविड के पाये जाते है, उन क्षेत्रों में विषेश निगरानी रखी जाये। वहां कोविड के मरीज बढ़ना नहीं चाहिये, जो भी सस्पेक्टेट मरीज समझने में आता है, उसकी टेस्टिंग अवश्य होनी चाहिये। कलेक्टर ने कहा कि सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र के अधीनस्थ अधिकारियों की बैठकर यह सुनिश्चित करें कि किल कोरोना अभियान-3 में सस्पेक्टेट चिन्हित की गई है। उनकी शतप्रतिशत टेस्टिंग हो जाना चाहिये। उन्होंने प्रत्येेक बीएमओ से मरीजों की संख्या प्राप्त की। इसके बाद उन्होेंने प्रत्येक जनपद सीईओ से गांव वार कोविड संबंधित जानकारी ली।
समीक्षा के दौरान नूरावाद बीएमओ अनुपस्थित रहें। कलेक्टर श्री कार्तिकेयन ने तत्काल नूरावाद बीएमओ अमर सिंह माझी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।
कलेक्टर ने कहा कि आने वाले समय में जिला अनलाॅक होने वाला है। पड़ौसी जिलों में हाॅटपोट न बनंे हांे। इसलिये वहां निगरानी बनी रहे, जेसे कि उत्तरप्रदेश, राजस्थान के लगे हुये गांवों की जानकारी लें, अभी उसेदघाट पुल को नहीं खोला जाये।

मुरैना जनपद के मुंगावली गांव में अधिकारी निगरानी बनायंे
मुरैना 25 मई 2021/ कोविड-19 की समीक्षा के दौरान जनपद सीईओ मुरैना श्री शेलेन्द्र यादव ने बताया कि मुरैना जनपद की 24 पंचायतों में 36 पाॅजीटिव केस अभी भी है। जबकि जनपद की 41 पंचायतें पूर्णतः कोविड से मुक्त है। मुरैना जनपद की एक पंचायत मुंगावली ऐसी है, जहां 10 केस 4 दिन पहले पाॅजीटिव पाये गये है। किल कोरोना अभियान के तहत 150 सस्पेक्टेट लोंग चिन्हित किये गये है, उनमें से 45 लांेगो के सैम्पलिंग की कार्यवाही करली गई है। शेष लोंगो का सैम्पलिंग कार्य जारी है। इस पर कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने समस्त जनपद सीईओ को निर्देश दिये है कि अपने-अपने क्षेत्र की पंचायतों में यह सुनिश्चित करें कि कोविड केस बढ़ना नहीं चाहिये। जहां एक भी पाॅजीटिव केस निकलें है, उस गांव की सेम्पलिंग जरूर करावे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort