• Sun. Jun 26th, 2022

कोरोना पीड़ितों के पुनर्वास शिविरों एवं अन्य व्यवस्थाओं के लिये मुरैना को 1 करोड़ रूपये मिले कलेक्टर ने राशि को व्यय करने के लिये समिति गठित की

Byadmin

Apr 28, 2021

कोरोना पीड़ितों के पुनर्वास शिविरों एवं अन्य व्यवस्थाओं के लिये मुरैना को 1 करोड़ रूपये मिले
कलेक्टर ने राशि को व्यय करने के लिये समिति गठित की
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ कोविड-19 महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुये मुख्यमंत्री राहत कोष से मुरैना जिले को एक करोड़ रूपये प्राप्त हुये है।
कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने बताया कि यह राशि कोविड-19 की रोकथाम के लिये पुनर्वास शिविरों (भोजन एवं कपड़ों सहित) की व्यवस्थाओं, मेडीकल शिविरों, (क्वारंटाइन शिविर) के संचालन, संचालित शिविरों का पर्यवेक्षण, संचालन आवश्यक कार्यो में तैनात कर्मचारियों की सुरक्षा के लिये क्रय की जाने वाली सामग्री एवं साफ-सफाई पर व्यय की जायेगी। यह राशि जिला पंचायत के बैंक खाते में ट्रांसफर की गई है।
कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने इस राशि का सदुपयोग व्यय करने के लिये एवं आवश्यक उपकरण क्रय करने के लिये समिति का गठन किया है। समिति में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अध्यक्ष होंगे। समिति में तहसीलदार, ब्लाॅक मेडीकल आॅफीसर, जनपद पंचायतों मुख्य कार्यपालन अधिकारी, लोक निर्माण वभाग के अनुविभागीय अधिकारी उप कोषालय अधिकारी सदस्य रहेंगे।
आदेश में कहा है कि अम्बाह, मुरैना, जौरा के जनपद पंचायत सीईओ को 10-10 लाख रूपये और सबलगढ़ जनपद पंचायत सीईओ 5 लाख रूपये तक व्यय कर सकंेगे। दी गई राशि का उपयोग निर्देशों के अनुसार मध्यप्रदेश वित्त विभाग के नियमों का पालन करते हुये व्यय करना होगी।

13 स्टापडेमों में एस्केप से पानी छोड़ गया
कम पानी से 6 हजार 36 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगीः लोगों को निस्तार के लिये पानी उपलब्ध रहेंगे
मुरैना 27 अप्रेल 2021/ जिले के 13 स्टापडेमों में सिंचाई नहरों के एस्केप से 1.81 एमसीएम पानी छोड़ा गया है। इस पानी से 62 ग्रामों के 628 किसान लाभान्वित होंगे। वे 6 हजार 36 हेक्टेयर क्षेत्र में कम पानी से सिंचाई कर सकेंगे, उन्हें जुलाई तक निस्तार के लिये पानी उपलब्ध होगा। वहीं आसपास के गांवों का जल स्तर बढ़ेगा साथ ही पशुओं को पानी मिलेगा।
सिंचाई विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री एसएन शर्मा ने बताया कि कैलारस के माधौपुरा स्टाप डेम जौरा के विस्नौरी, चिन्नौनी करैरा, पहाड़गढ़ के पंडा स्टाप डेम कम काजवे, जौरा विकासखंड के अहरोली, खिरौरा, गलैथा स्टाप डेम में पानी छोड़ा गया है। इसी तरह अंबाह के दिमनी, गोपी रूपहेटी स्टाप डेम पोरसा के कोंथर खुर्द स्टाप डेम कम कांजवे, शिकारा स्टाप डेम और बुधारा स्टाप डेम है जिनमें पानी छोड़ा गया है।

विश्व मलेरिया दिवस मनाया गया
1 मई तक मलेरिया सप्ताह आयोजित होगा
मुरैना 27 अप्रेल 2021/विश्व मलेरिया दिवस रविवार 25 अप्रेल को मनाया गया। इसी दिन से 1 मई तक मलेरिया जागरूकता सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है।
मलेरिया अधिकारी द्वारा बताया गया कि इस वर्ष मलेरिया दिवस की थीम रिचिंग द जीरो मलेरिया टारगेट रहेगी, जिसे सभी टी.व्ही. चैनल एवं एफएम रेडियो में मलेरिया रोकथाम से संबंधित संदेश जारी किये जा रहे है। थीम के अनुसार विश्व मलेरिया दिवस पर एसएमएस प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाना। इसके लिये स्वास्थ्य अमले को सक्रिय किया गया है। मलेरिया दिवस से संबंधित पेम्पलेट एवं आशाओं द्वारा मलेरिया रोकथाम के नारे दीवार लेखन आदि कराये जा रहें है। मलेरिया से बचाव व रोकथाम हेतु जन जागरूकता लाई जा रही है।

गरीब परिवार को तीन माह में 25 किलोग्राम खाद्यान्न प्रति व्यक्ति के मान से निःशुल्क मिलेगा
मुख्यमंत्री श्री चैहान द्वारा गेहूँ उपार्जन कार्य की समीक्षा
मुरैना 27 अप्रैल 2021/मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि गरीब परिवारों को राज्य सरकार द्वारा निःशुल्क दिये जाने वाले खाद्यान्न के साथ ही केन्द्र सरकार से प्राप्त 10 किलो खाद्यान्न का वितरण भी किया जाए। इस तरह परिवार के प्रत्येक सदस्य के मान से 25 किलोग्राम अनाज तीन माह में गरीबों को निःशुल्क प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति को मिले, इसके लिए व्यापक स्तर पर जन-जागृति के कार्य किए जायें। मुख्यमंत्री श्री चैहान सोमवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस से गेहूँ उपार्जन कार्य की समीक्षा कर रहे थे।
मुख्यमंत्री श्री चैहान ने संक्रमण चुनौती के काल में खाद्य विभाग और सहकारिता क्षेत्र के कर्मचारियों अधिकारियों के उत्कृष्ट कार्यों की सराहना करते हुए उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि जो हितग्राही अप्रैल-मई माह का अनाज ले गए हैं उनको जून माह में अतिरिक्त आंवटन की पूर्ति की जाए। श्री चैहान ने गेहूँ उपार्जन कार्य की व्यवस्थाओं की प्रशंसा करते हुए परिवहन कार्य में और अधिक गति लाने के प्रयास करने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि उपार्जन एवं राशन वितरण व्यवस्थाओं में संक्रमण से बचाव की सावधानियों का पूरी गम्भीरता से पालन होना चाहिए। राशन वितरण में बॉयोंमेट्रेक्सि व्यवस्था से छूट दी जाए। मास्क पहनने और सेनेटाइजेशन की व्यवस्थाओं का कड़ाई से अनुपालन हो।
मुख्यमंत्री श्री चैहान को बताया गया कि खरीदी की अवधि बढ़ाने और पोर्टल को शनिवार को खुला रखने के कार्य किए गए हैं। जिन खरीदी केन्द्रों में 5 मई तक खरीदी होनी थी, वहां अब 15 मई तक खरीदी का कार्य किया जाएगा। इसी तरह 15 मई तक खरीदी केन्द्रों में 25 मई तक खरीदी होगी। इसी तरह खरीदी केन्द्रों की क्षमता के अनुसार एस.एम.एस भेजे जा रहे हैं ताकि केन्द्रों पर भीड़ एकत्र नहीं हो। उनको बताया गया कि प्रदेश में खरीदी की मात्रा के अनुसार बारदाने उपलब्ध हैं। प्रदेश में कुल सत्यापित 24 लाख 65 हजार सत्यापित किसानों में से 16 लाख 5 हजार किसानों को एस.एम.एस भेजे गए हैं। इनमें से 7 लाख 32 हजार किसानों से 10 हजार 596 करोड़ रूपए का 53 लाख 69 हजार मीट्रिक टन खाद्यान्न की खरीदी हो चुकी है। किसानों को 6 हजार 683 करोड़ रूपए का भुगतान किया गया है। भुगतान 5 दिवस की अवधि में किया जा रहा है। प्रदेश में 4 हजार 588 खरीदी केन्द्रों द्वारा खरीदी का कार्य किया जा रहा है। सभी 94 सेक्टरों में उपार्जन ऐंजेंसी द्वारा परिवहनकर्ता नियुक्त हैं।

पोरसा में कोरोना जागरूकता को लेकर पोस्टर मेकिंग अभियान चलाया गया
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के नेहरू युवा केंद्र संगठन मुरैना के जिला युवा अधिकारी राकेश सिंह तोमर के निर्देशन में विकासखंड पोरसा की राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक मुनेंद्र सिंह तोमर एवं अमन भदौरिया के द्वारा कोरोना जागरूकता को लेकर पोस्टर मेकिंग अभियान चलाया गया, जिसमें विभिन्न युवाओं ने भाग लिया।
इस मेकिंग अभियान प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों में अमित प्रथम स्थान पर, सूर्यांश सहारे द्वितीय ,रितिका तोमर व केतन माहौर संयुक्त रूप से तृतीय स्थान पर रहे। नंदिनी वर्मा चतुर्थ स्थान पर रहे। कोरोना के चलते जिले में कफ्र्यू लगा हुआ है। कोरोना नियमों का पालन करते हुए तथा कफ्र्यू को ध्यान में रखते हुए स्वयंसेवकों ने लोगों को जागरूक करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया व पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता ऑनलाइन आयोजित कराई। जिसका विषय था ’’कोरोना जागरूकता’’। जिसमें प्रतिभागियों ने अपने-अपने घर पर पोस्टर बनाकर उन्हें मुनेंद्र तोमर को भेजा।
जिला चिकित्सालय मुरैना में पर्याप्त आॅक्सीजन की उपलब्धता
मुरैना 27 अप्रेल 2021/ सिविल सर्जन एवं जिला चिकित्सालय मुरैना के सह मुख्य अधीक्षक डाॅ एके गुप्ता ने एक जानकारी में बताया है कि जिला चिकित्सालय में पर्याप्त रूप से आॅक्सीजन की उपलब्धता है। डाॅ गुप्ता ने बताया कि 26 अप्रेल 2021 कोविड आईसीयू में 2 और 1 म्रत्यु आइसोलेशन में हुई है, यह तीनों मरीज गंभीर रूप से बीमार थे। इन तीनों व्यक्तियों के उपचार में किसी भी प्रकार की कोई कोताही नहीं बरती गई है। उन्हें निरंतर आॅक्सीजन मिलती रही है। किसी भी मरीज की मृत्यु आॅक्सीजन की उपलब्धता से नहीं हुई है, आॅक्सीजन उपलब्ध थी।

निगम के अंतर्गत माइक्रो कंटेनमेंट जोन के एसआई देखरेख करेंगे
मुरैना 27 अप्रेल 2021/ निगम के कई वार्डों में लगातार केस बढ रहे हैं। केसों कीे बढती हुई संख्या को देखते हुये कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन ने नगर निगम कमिश्नर को निर्देश दिये हैं कि वे ऐसे वार्डों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन में सील करें। नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता ने निगम के अंतर्गत ऐसे 9 वार्ड चिन्हित किये हैं जिन्हें बेरीकेड कर दिया गया है। इन वार्डों में से फोर व्हीकल वाहन नहीं जा सकेंगे। इसके साथ ही उन्होंने निगम के सैनेट्री इंस्पेक्टर (एसआई) को पूरे समय जिम्मेदारी दे दी है। जिला प्रशासन ने अपील की है कि माइक्रो कंटेनमेंट जोन से व्यक्ति बाहर न निकलें। जिन वार्डों को माइक्रो कंटेनमेंट जोन चिन्हित किया है उनमें वार्ड क्रमांक 12,16,17,18,33,25,23,38 और 41 है। प्रतिदिन अधिक मरीज इन वार्डों में निकल रहें है।

निगम के कई क्षेत्रों में फोगिंग का कार्य प्रारंभ
मुरैना 27 अप्रेल 2021/ कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन के निर्देशन में नगर निगम कमिश्नर ने निचली बस्तियों में मच्छरों का प्रकोप कम करने के लिये फोगिंग का कार्य प्रारंभ किया है। फोगिंग कार्य होने से मच्छरों का प्रकोप कम होगा साथ ही मलेरिया भी पैर नहीं पसार सकेगा। निगम द्वारा मंगलवार को एमएस रोड सहित अन्य निचली बस्तियों में भी फोगिंग कार्य कराया गया।

नगर निगम के 6 वार्ड कंटेनमेन्ट जोन बनाये गये
मुरैना 27 अप्रैल 2021/वर्तमान में जिला मुरैना अन्तर्गत कोरोना वायरस गुणात्मकरूप से फैल रहा है। जनसामान्य के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने कोरोना से रोकथाम एवं बचाव हेतु कोविड संक्रमित क्षेत्र नगर निगम के वार्ड क्रमांक 11,13,27,42,45 और 46 कंटेनमेन्ट जोन बनाये गये है।
कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन ने मुरैना जिले के लिये आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अधीन जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करते हुये नगर निगम द्वारा वेरीकेटेड क्षेत्र के लिये दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 में निहित शक्तियों के अधीन अन्य आदेश होने तक कोरोना कफ्र्यू लगाने का आदेश प्रसारित किया है। आदेश में कहा गया है कि कोरोना कफ्र्यू के दौरान कोई भी व्यक्ति अपने घरों से बाहर नहीं निकलेगें, किसी भी प्रकार के आयोजन नहीं करेगा। अन्य कोई भी व्यक्ति घोषित कोरोना कफ्र्यू में प्रवेश नहीं करेगा। पुलिस प्रशासन द्वारा उक्त जारी आदेश का सख्ती से पालन सुनिश्चित करायेगा। यह आदेश जन सामान्य के जानमाल की सुरक्षा तथा भविष्य में लोक शान्ति भंग होने की संभावनाओं को ध्यान में रखते हुये जारी किया गया है।

शपथ ग्रहण कर कोरोना के बचाव के लिए प्रचार-प्रसार में सहयोग हेतु प्रेरित किया गया
मुरैना 27 अप्रैल 2021/कोविड-19 संक्रमण के बचाव के लिए मंगलवार को मेटरिन श्रीमती मीना देवी, डिप्टी मीडिया ओफीसर श्रीमती रामलली माहौर द्वारा स्टाफ नर्स सीएचओ व अस्पताल में आने वाले लोगों को व्यवहार परिवर्तन हेतु शपथ ग्रहण कराई गई। शपथ में मास्क लगायें, दो गज की दूरी बनाए, हाथों को साबुन और पानी से 20 सेकंड तक धोयें, भीड़-भाड़ जगहों पर ना जाये। आवश्यकता न हो तो घर से बाहर ना जाये। खाँसी, जुकाम, बुखार, सिर दर्द, गले में खराश, घबराहट ऐसे लक्षण दिखाई देने पर आशा, आंगनबाड़ी, एएनएम या अपने नजदीकी स्वास्थ्य संस्था पर संम्पर्क कर कहा गया, जिसे सभी ने दोहराया। शपथ ग्रहण कराने का मुुख्य मकसद कोविड जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव किया जाना है। शपथ के समय प्रिया साहू, गीता, अजय पाल, सोनू, हेमंत, दिनेश गुर्जर, प्रेमचंद, पवन, वीरू, प्रवीन, मनीष, आदित्य कुल 46 लोगों उपस्थित थे।

जिले में किल कोरोना अभियान के तहत प्रत्येक घर में बुखार से पीड़ित व्यक्तियों को चिन्हित कर जानकारी ली जा रही है
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ जिले में किल कोरोना अभियान के तहत प्रत्येक घर में बुखार से पीड़ित व्यक्तियों को चिन्हित कर जानकारी संधारित करने के लिये कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन के निर्देशन में आशा कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आंगनवाडी कार्यकर्ता द्वारा घर-घर जाकर सर्वे कार्य किया जा रहा है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आरसी बांदिल एवं सिविल सर्जन डाॅ. एके गुप्ता ने स्वास्थ्य विभाग के कार्यकर्ताओं द्वारा प्रत्येक घर के सदस्य के स्वास्थ्य की जानकारी ली जा रही है और सर्दी, खांसी, बुखार, जुकाम, गले में खराश, बदन दर्द, सिरदर्द के साथ बुखार एवं सांस से संबंधित परेशानी को चिन्हांकित कर स्वास्थ्य सेवायें प्रदान की जा रही हैं। इस अभियान के अंतर्गत जिले के क्षेत्रों में कोविड-19 की ट्रांसमिशन चैन तोड़ने हेतु गठित दल द्वारा घर-घर जाकर बुखार के लक्षण वाले कोरोना से संबंधित रोगियों की खोज की जा रही है। जिले में किल कोरोना अभियान-2 की माॅनीटरिंग हेतु अधिकारी नियुक्त किये गये हैं। जो प्रतिदिन अभियान के तहत सर्वे कार्य कर रहें है। घरों की जानकारी एकत्रित कर सार्थक एप के माध्यम से जानकारी संधारित की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की सर्वे टीम में महिला पुरूष स्वास्थ्य कार्यकर्ता सुपरवाइजर नान कांटेक्ट द्वारा थर्मामीटर, पल्स आॅक्सीमीटर एवं सुरक्षा किट के माध्यम से सेवायें दे रहे हैं।

नगर निगम में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रचार को रोकने के लिये माईक्रो कंटेनमेन्ट जोन बनाये जा रहे है
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ वर्तमान में मुरैना जिले में कोरोना वायरस गुणात्मकरूप से फैल रहा है। जनसामान्य के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना वायरस से रोकथाम एवं बचाव हेतु कोविड संक्र्रमित क्षेत्रों को कंटेनमेन्ट जोन बनाये गये है। अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव ने बताया कि नगर पालिक निगम मुरैना के अन्तर्गत कोरोना संक्रमण दर में निरंतर वृद्धि हो रही है। जिस कारण नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण के प्रचार को रोकने के लिये माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाये जा रहे है।
अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव ने कोरोना वायरस से रोकथाम एवं बचाव हेतु माइक्रो कंटेनमेन्ट जोन में सघन बेरिकेटिंग एवं आवश्यक सामग्री प्रदाय करने के लिये आयुक्त नगर निगम श्री अमरसत्य गुप्ता को नोडल अधिकारी बनाया है। श्री गुप्ता वन विभाग, लोक निर्माण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग मुरैना से समन्वय स्थापित कर कोविड संक्रमित क्षेत्रों में बेरिकेटिंग हेतु आवश्यक सामग्री बेरिकेटिंग, बांस, बल्ली, पाइप, स्टोपरर्स आदि उपलब्ध कर बेरिकेटिंग व्यवस्था कराना सुनिश्चित करें।

व्यापारियों की सहमति पर किराना की होम डिलेवरी प्रातः 9 से दोपहर 2 बजे तक होगी
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ नगर निगम गाड़ी अड्डा सभागार में मंगलवार को एसडीएम, नगर निगम कमिश्नर और सीएसपी की उपस्थिति में थोक व्यापारियों के साथ बैठक संपन्न हुई। बैठक में व्यापारियों के अध्यक्ष प्रवीण गुप्ता ने कहा कि कोविड नियमों का पालन करते हुए शहर में किराना होम डिलीवरी की जाना उचित होगा। जिससे जरूरतमंद लोगों को राशन घर पर मिल सके और छोटे रेड्डी लगाने वालो को निगम द्वारा पास जारी कर के अवसर मिला तो गरीवो की रोजी रोटी चल सकेंगी । इस पर नगर निगम कमिश्नर अमरसत्य गुप्ता, एसडीएम श्री आर एस बाकना और सीएसपी श्री रघुवंशी ने व्यापारियों की बाते मानते हुए निम्न शर्तों पर किराना होम डिलीवरी के लिए सहमति दी है।
अधिकारियों ने कहा कि व्यापारियों के यहां ट्रकों से माल उतरने का समय सुवह 5 से 7 बजे तक रहे। थोक दुकानों से सुवह 9 से 2 तक रेड्डी या हाथ ठेला से निगम के यहां से पास इश्यू कराकर होम डिलीवरी कोविड नियमो कि पालन करते की जा सकेगी। इसके लिए व्यापारियों को थोक दुकानों से सुबह 9 से 2 तक स्थान, एड्रेस सीएसपी पुलिस को अवगत कराने होगे। उन दुकानों पर पुलिस का पहरा रहेगा। जहां से होम डिलेवरी की रेडियां माल लेकर रवाना होगी। दोपहर दो बजे के बाद एक भी रेडी बाजार मे या गलियो मे नही दिखनी चाहिए । साथ ही बिना निगम के पास इश्यू रेडियां पाई गयी तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाही होगी । इसके साथ ही अधिकारियों ने कहा कि कोविड नियमो का उल्लंघन होने पर या कोविड के कैस आज की स्थिति से बढ़त मे हुए तो सहमति स्वतः समाप्त मानी जायेगी।

आज से किसान अपनी उपज लेकर मंडी प्रांगण में नहीं आयें
किसान सौदा पत्रक के माध्यम से विज्ञप्तिधारी व्यापारी को सीधे फसल बेचें
मुरैना 27 अप्रैल 2021/ कृषि उपज मंडी समिति मुरैना के सचिव ने समस्त किसान भाईयों से आग्रह किया है कि वे 28 अप्रैल 2021 बुधवार से आगामी आदेश तक मंडी प्रांगण मुरैना में अपनी कृषि उपज विक्रय हेतु लेकर नहीं आयें। किसान सौदा पत्रक के माध्यम से विज्ञप्तिधारी व्यापारी को सीधे फसल बेच सकते है।
मंडी सचिव ने बताया कि कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुये व्यापार मंडल मुरैना द्वारा अनुज्ञप्तिधारी व्यापारियों से हुई चर्चानुसार 27 अप्रैल को मंडी कार्यालय में एक आवेदन प्रस्तुत किया है। आवेदन में निर्णय लिया गया है कि 28 अप्रैल 2021 बुधवार से कोविड-19 की सामान्य स्थिति होनेे तक मंडी प्रांगण मुरैना में कृषि उपज वितरण कार्य बंद रहेगा।
मंडी समिति मुरैना में कृषि उपज विपरण कार्य बंद रहने की स्थिति में सभी किसान अपनी कृषि उपज मध्यप्रदेश शासन द्वारा जारी निर्देशानुसार सौदा पत्रक के माध्यम से मंडी क्षेत्र मुरैना के किसी भी अनुज्ञप्तिधारी व्यापारी के प्रतिष्ठान पर अपनी उपज सहमति से सीधे विक्रय कर सकंेगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort