• Wed. May 25th, 2022

जिले की पाॅजीटिविटी रेट 6.21 प्रतिशत है, कोरोना कफ्र्यू 4 जून तक बढ़ा – केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर

Byadmin

May 29, 2021

जिले की पाॅजीटिविटी रेट 6.21 प्रतिशत है, कोरोना कफ्र्यू 4 जून तक बढ़ा – केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर
पाॅजीटिव मरीज निकलने वाले ग्रामों में प्रभारी अधिकारी नियुक्त करें – प्रभारी मंत्री श्री कुशवाह
ग्रामीण क्षेत्र के पाॅजीटिव मरीजों को ब्लाॅक स्तर पर आईसोलेट करें – चंबल कमिश्नर श्री सक्सेना
मुरैना 29 मई 2021/ केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा है कि मुरैना जिले में लगातार 3 दिन से कोरोना के केस बढ़ रहें है। इसलिये मुरैना जिला अभी जनता के हितों को ध्यान में रखते हुये 1 जून से अनलाॅक किया जाना उचित नहीं। जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप की बैठक में प्राप्त सुझावों के आधार पर मुरैना जिले में कोरोना कफ्र्यू 4 जून 2021 प्रातः 6 बजे तक रखने का निर्णय लिया गया है। मंत्री श्री तोमर ने कहा कि स्थिति को ध्यान में रखते हुये जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप की बैठक 3 जून को पुनः बुलाई जायेगी और केस की पाॅजीटिविटी रेट कम आती है तो मुरैना जिले को शासन की गाइडलाइन के अनुसार खोलने पर विचार किया जायेगा। यह बात उन्होंने शनिवार को जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप की बैठक में नवीन कलेक्ट्रेट के सभागार में चल रही बैठक को गूगल मीट के माध्यम से संबोधित किया। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष मुरैना में प्रदेश के खाद्य प्रंसस्करण एवं मुरैना जिले के प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह, जौरा विधायक श्री सूबेदार सिंह रजौधा, चंबल कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना, चंबल रेन्ज के पुलिस महानिरीक्षक श्री मनोज शर्मा, डीआईजी श्री राजेश हिंगणकर, कलेक्टर श्री बी. कार्तिकेयन, पुलिस अधीक्षक श्री ललित शाक्यवार, अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव, वीडियो काॅलिंग के माध्यम से जुड़े अम्बाह विधायक श्री कमलेश जाटव, जिला क्राइसेस मैनेजमेन्ट कमेटी के सदस्य, नगर निगम कमिश्नर श्री अमरसत्य गुप्ता, प्रभारी एसडीएम श्री एलके पाण्डे, श्री जितेन्द्र घुरैया सहित स्वास्थ्य से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे।

केन्द्रीय मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि जिले में लगातार कोविड मरीजों की वृद्धि हुई है, जिसमें 26 मई को 1156 टेस्टिंग पर 27 मरीज, 27 मई को 1194 टेस्ंिटग पर 48 और 28 मई को 1207 टेस्टिंग पर 75 मरीज पाॅजीटिव निकलकर आयें है, इसको देखते हुये जिले की पाॅजीटिविटी रेट 6.21 प्रतिशत है। यह स्थिति मुरैना के लिये अनलाॅक नहीं बनती है। हमें अभी कोरोना कफ्र्यू को बढ़ाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि परिस्थिति ठीक नहीं है टेस्टिंग बढ़ना चाहिये। वायरस है तो सामने आयेगा, वायरस को मारने की कोई दवा नहीं है। बचने के उपाये जरूर है। हमें किसी बड़ी मुसीबत से बचने के लिये कोरोना कफ्र्यू को बढ़ाना ही उचित होगा। इसके साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में टेस्टिंग पर जोर दिया जाये। जो लोग पाॅजीटिव है, उन्हें ब्लाॅक स्तर पर आईसोलेशन वार्डो में शिफ्ट किया जाये। जिससे वे अपने घरों के अन्य सदस्यों को संक्रमित न कर सकें। भयावह स्थिति में सभी ने अपने-अपने दायित्व सभाले थे, जिसमें पेरामेडीकल स्टाफ, पुलिस, डाॅक्टर सभी लोगों ने अपने-अपने काम किये है। मध्यप्रदेश अनलाॅक के लिये बढ़ रहा है, तो मुरैना में केस जरूर बढ़ेंगे। इस स्थिति में जनता भी हमें माफ नहीं करेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थिति को ध्यान में रखते हुये जिला स्तरीय क्राइसेस मैनेजमेन्ट गु्रप अनलाॅक के लिये स्वयं निर्णय लें, तभी खोलने पर विचार किया जाये। इसलिये मुरैना जिले में 4 जून प्रातः 6 बजे तक कोरोना कफ्र्यू रहेगा। इससे पहले 3 जून को क्राइसेस मैनेजमेन्ट की बैठक बुलाई जायेगी।
प्रदेश के खाद्य प्रंसस्करण एवं मुरैना जिले के प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने कहा है कि संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिये हमें अभी कोरोना कफ्र्यू बढ़ाने का निर्णय लिया है। जिन ग्रामों में अधिक केस निकल रहें है, उन ग्रामों में नोडल अधिकारी नियुक्त किये जायें और घर-घर जाकर संक्रमित परिवारों के यहां टेस्टिंग कराई जाये। लोगों को वैक्सीनेशन के लिये प्रेरित किया जाये।
इसके साथ ही उन गांवों में किल कोरोना अभियान के तहत ऐसे मरीजों को निकाला जाये, जो संक्रमित होने के बाद परिवार के अन्य लोंगो को संक्रमित कर रहंे है। उन्होंने कहा कि जिन पंचायतों में 5 से अधिक मरीज है, वहां रेडजोन में उन पंचायतों को रखा गया है। उन पंचायतों के लिये पंचायत सचिव कोटवार को तैनात कर पांबदी कराई जाये।

आॅनलाइन जाॅब फेयर के लिये माई एम.पी. र¨जगार प¨ट्रल पर मिलेगी सूचना
मुरैना 29 मई 2021/क¨विंड 19 की स्थिति के कारण जहाँ एक अ¨र निय¨जक अपने पास उपलब्ध रिक्त स्थान की पूर्ति के लिए निर्धारित य¨ग्यताधारी आवेदक¨ं के चयन की प्रक्रिया नहीं कर पा रहे है। वहीं दूसरी अ¨र बेर¨जगार आवेदक¨ं क¨ साक्षात्कार की सूचना प्राप्त नहीं ह¨ पा रही है। इस समस्या के समाधान के लिये र¨जगार संचालनालय के माई एम.पी. र¨जगार प¨ट्रल (ूूू.उचतवरहंत.हवअ.पद ढीजजचरू//ूूू.उचतवरहंत.हवअ.पद/झ) पर वर्चुअल प्लेटफार्म उपलब्ध करवाया गया है। जिसके माध्यम से आवेदक अपने घर से ही काउन्सिलिंग प्राप्त कर सकते हैं अ©र आॅनलाइन साक्षात्कार भी दे सकते है।
इस सुविधा का लाभ प्राप्त करने के लिए निय¨जक¨ं क¨ अपने जिले के र¨जगार कार्यालय में दूरभाश अ©र ई-मेल के माध्यम से संपर्क करना ह¨गा एवं रिक्ति के संबंध में विस्तृत विवरण देना ह¨गा। प्राप्त विवरण के आधार पर र¨जगार कार्यालय द्वारा प¨ट्रल पर आॅन लाईन जाॅब फेयर क्रिएट किया जाएगा। क्रिएट जाॅब फेयर की जानकारी प¨ट्रल के ह¨म पेज पर प्रदर्षित ह¨गी। इच्छुक आवेदक संबंधित जाॅब फेयर पर अपना आवेदन कर सकता है। वर्चुअल साक्षात्कार का आय¨जन र¨जगार अधिकारी द्वारा किया जाएगा एवं निय¨जक अ©र आवेदक द¨न¨ं क¨ सूचित किया जाएगा।

वाहक जनित रोग नियंत्रण हेतु जिला टास्क फोर्स कमेटी गठित
बैठक 31 मई को
मुरैना 29 मई 2021/ लोक स्वास्थ्य परिवार कल्याण भोपाल के आदेशानुसार राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम अन्तर्गत मलेरिया, फायलेरिया, डेंगू, चिकुनगुनिया, जापानीज, एन्सिफेलाएटिस एवं कालाअनार जैसी बीमारियों के नियंत्रण हेतु जिला टास्क फोर्स एवं मलेरिया, एलीमिनेशन कमेटी की गठन किया गया है। इसकी रोकथाम के लिये जून की कार्ययोजना तैयार करने के लिये जिला टास्क फोर्स की प्रथम बैठक 31 मई को दोपहर 12 बजे कलेक्टर की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की जानी है।

बैलेंस राशि आउटसोर्स कार्मिकों के खाते में जमा
मुरैना 29 मई 2021/ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अंतर्गत कतिपय वृत्तों में आउटसोर्स कर्मचारियों को कलेक्टर रेट से कम वेतन मिलने की शिकायतें प्राप्त हुईं थी। कंपनी के उच्च प्रबंधन ने शिकायतों को संज्ञान में लेते हुए तत्काल जाँच कराई और पाया गया कि भोपाल रीजन में शहर वृत्त भोपाल, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, विदिशा एवं ग्वालियर रीजन में गुना, अशोकनगर, संचारण संधारण ग्वालियर, दतिया एवं भिण्ड में आउटसोर्स कर्मचारियों को कंपनी से अनुबंधित आउटसोर्स एजेंसियों द्वारा कम वेतन दिया गया है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए मैदानी वृत्तों के महाप्रबंधकों को जांच के निर्देश दिए गए एवं आउटसोर्स एजेंसी के कर्मचारियों को मिलने वाले कुल वेतन के एवज में मिले कम वेतन के अंतर (बैलेंस) की राशि को संबंधित आउटसोर्स कार्मिकों के बैंक खाते डाल दिया गया है। गौरतलब है कि ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने आउटसोर्स कर्मचारियों को निर्धारित वेतन दिलवाने के निर्देश दिये थे।
मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री गणेश शंकर मिश्रा ने सभी वृत्तों के महाप्रबंधकों को सचेत किया है कि वे आउटसोर्स एजेंसी के कार्यों पर निगरानी रखें और आउटसोर्स कर्मचारियों को नियमानुसार मिलने वाले वेतन देने के लिए अपने वृत्त में कार्यरत प्रबंधक (मानव संसाधन) को ताकीद करें। कुछ आउटसोर्स एजेंसी द्वारा की गई लापरवाही के विरूद्ध कंपनी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है और भविष्य में वेतन को लेकर किसी भी प्रकार की विसंगति नहीं होने के निर्देश दिए हैं। प्रबंध संचालक ने स्पष्ट किया है कि कंपनी के कामकाज को करने वाले आउससोर्स कर्मचारी कंपनी के कुल मानव संसाधन का अहम हिस्सा हैं और उन्हें किसी भी प्रकार की वेतन संबंधी दिक्कतें नहीं आनी चाहिए। कंपनी ने यह भी कहा है कि आउटसोर्स कर्मचारी किसी भी प्रकार की दिक्कतों के लिए संबंधित महाप्रबंधक और प्रबंधक (मानव संसाधन) से संपर्क कर अपनी शिकायतों का निराकरण करा सकते हैं।

2
चंबल कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना ने कहा कि चंबल संभाग के मुरैना जिले में लगातार 3 दिन में कोरोना के केस बढ़ रहे है, हम सबके लिये चिंता का विषय बनता जा रहा है। इसके लिये किल कोरोना जिले में पुनः चलाया जाये, जहां लोग पाॅजीटिव निकल रहें है, उन परिवारों में बीएलओ की सहायता से लोंगो को चिन्हित करें, जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा रहें है और 18 प्लस के है उनको बीएलओ के सहयोग से वैक्सीनेशन कराने की ड्राइव चलायें। मुरैना जिले को 2 वेटिलेंटर और मिले हुये है, जो पाॅर्टेबल है। उन्हें एम्बूलेंसों में शिफ्ट कराया जाये।
जौरा विधायक श्री सूबेदार सिंह रजौधा ने कहा कि स्थिति सामान्य तभी मुरैना जिले को अनलाॅक पर विचार किया जाये। जनहित को ध्यान में रखते हुये जो निर्णय क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप के सदस्यों ने दिया है, वह सबके लिये सराहनीय कदम रहेगा।
अम्बाह विधायक श्री कमलेश जाटव ने कहा कि जो लोग ग्रामीण क्षेत्रों में पाॅजीटिव निकल रहें है, उन्हें ब्लाॅक स्तर पर आईसोलेट कराया जाये। क्योंकि पाॅजीटिव व्यक्ति अपने ही परिजनों के साथ उठ-बैठकर परिवार के अन्य लोंगो को संक्रमित कर रहें है।
भाजपा जिलाध्यक्ष श्री योगेशपाल गुप्ता ने कहा कि मुरैना जिले के लिये विगत तीन दिनों में संक्रमित रेट बढ़ी हुई चिंता का विषय बन गई है। इसके लिये एक सप्ताह तक कोरोना कफ्र्यू बढ़ना नहीं उचित होगा।
कलेक्टर श्री बी कार्तिकेयन ने बताया कि जिले में एक्टिव केस 341 है, जिसमें 304 मरीज होम आईसोलश्ेान है। जिले में सेम्पल टारगेट प्रतिदिन 900 का है। जिसमें 28 मई की स्थिति में पाॅजीटिविटी रेट 5.2 प्रतिशत पर है। जबकि रिकवरी रेट 94.8 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि जिले में ब्लाॅक स्तर पर अम्बाह में 43, जौरा में 25, कैलारस में 29, खडियाहार में 3, मुरैना में 114, नूरावाद में 33, पहाडगढ़ में 38, पोरसा में 27 और सबलगढ़ में 29 एक्टिव केस है। कलेक्टर ने बताया कि नगर निगम के अन्तर्गत वार्ड क्रमांक 33 में 9, 34 में 6, 35 में 5, 47 में 5, 10 में 5, 17 में 5, 19 में 4, 23 में 4, 29 में 4 और वार्ड क्रमांक 16 में 3 एक्टिव केस मौजदू है। बैठक में क्राइसेस मैनेजमेन्ट ग्रुप के श्री राजेन्द्र शुक्ला, हरिओम शर्मा, कैलाश मित्तल, राजेन्द्र मरैया, व्यापारी संघ की ओर से माहेश्वरी व जैन ने भी अपने सुझाव दिये।
क्र. 212
कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वार्डो में किया कमेटी का गठन
वार्ड स्तर संकट प्रबंधन कमेटी अपने-अपने वार्ड में कोरोना को रोकने के लिए करेगी कार्य
मुरैना 29 मई 2021/ मध्यप्रदेश शासन के निर्देशानुसार नगर निगम सीमा क्षेत्र के सभी 47 वार्ड में वार्ड स्तरीय संकट प्रबंधन समिति का गठन किया गया। गठित समिति की बैठक आज दोपहर 12 बजे नगर निगम के नवीन गाड़ी अड्डे में आयोजित की गई। गठित कमेटी द्वारस अपने वार्ड में कोरोना संक्रमण को रोकने एवं कम करने के लिए वार्ड स्तर पर प्रयास किए जाएंगे। कमेटी द्वारा कोविड संकमण महामारी को रोकने के लिए कमेटी के सदस्य नियमित वार्ड में भ्रमण कर देखेंगे कि यदि कोई व्यक्ति कोरोना बीमारी से संक्रमित है तो उस व्यक्ति को जिला चिकित्सालय द्वारा स्थापित क्वॉरेंटाइन सेंटर भेजेगी और यह भी ध्यान रखेगी कि उस घर का व्यक्ति किसी दूसरे के संपर्क में ना आए। समय-समय जन जागरूकता का कार्य भी करेगी।
समिति के नोडल अधिकारी श्री रहीम चैहान एवं ललित शर्मा ने बताया कि समिति अपने-अपने वार्ड में कोरोना संकमण को रोकने को कम करने के भरपूर प्रयास करें, जिससे कि इस संक्रमण को कम किया जा सके। नगर निगम आयुक्त श्री अमरसत्य गुप्ता ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार वार्ड स्तरीय संकट प्रबंधन समिति का गठन किया गया। यह समिति अपने संबंधित वार्ड में कोरोना संक्रमण पॉजिटिव व्यक्तियों की पहचान होने पर उन्हें जिला चिकित्सालय के कोविड सेंटर में भेज दें। साथ ही साथ वार्ड में संक्रमण को कम करने के प्रयास करें, जिससे कि शहर में संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। बैठक में कोविड-19 नोडल अधिकारी श्री पद्मेश उपाध्याय ने बताया कि कमेटी अपने-अपने वार्ड में शत-प्रतिशत टीका वैक्सीनेशन लगाना भी सुनिश्चित करें और टीके लगाने के लिए सभी को प्रेरित करें। बैठक में संजय शर्मा, संजय दंडोतिया, मधु दंडोतिया, रमेश उपाध्याय, चारु कृष्ण केडी दंडोतिया, राजकुमार पाठक सहित नगर निगम के वार्ड प्रभारी उपस्थित थे।
क्र. 213

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort