• Sun. May 22nd, 2022

जो कहते हैं कि डॉक्टर का कोई धर्म नहीं होता है

Byadmin

Apr 4, 2021

जो कहते हैं कि डॉक्टर का कोई धर्म नहीं होता है वह एक बार इस बैनर को आंख फाड़ कर देख लें । वैसे श्रीलंका में काफिरों के भोजन में नपुंसक बनाने वाली दवाएं डाक्टरों की सलाह से ही डाली जाती थीं । एक मजहबी डॉक्टर ( जो gynecology का head भी था ) ने तो आपरेशन करते समय हजारों काफिर महिलाओं का गर्भाशय ही निकाल दिया था । जब यह हादसा उसी अस्पताल की नर्स के साथ हुआ तो पूरे देश में हड़कंप मच गया । वह लंका है इसलिए बात उठी और सुनी गई ।

डॉक्टर ने 30 हजार से अधिक काफिर गर्भाशय निकालने की बात स्वीकार भी करी । भारत में तो इस तरह की बातों को सरकार और मीडिया मिलकर दबा देते हैं । नीचे जो एसोसिएशन का बोर्ड लगा है वह इन्हें यही सब सिखाने के लिए हैं । यदि किसी काफिर ने हिम्मत करके पुलिस में शिकायत भी की तो एसोसिएशन की तरफ से कपिल सिब्बल जैसे घाघ मंहगे वकील खड़े हो जाएंगे । काफिर बेचारा अपना दर्द संभालेगा या कोर्ट में मुकदमा लड़ेगा । यह मेडिकल जिहाद है । इसलिए सावधान रहें, बहुत सी समस्याओं का उपाय बहिष्कार और सावधानी में ही होता है । डॉक्टर का कोई धर्म नहीं होता है यह एक जुमला है ठीक वैसे ही जैसे आतंकी का कोई धर्म नहीं होता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort