• Sun. May 29th, 2022

नगरीय निकाय निर्वाचन हेतु रजिस्ट्रीकरण एवं अपीलीय अधिकारी नियुक्त

Byadmin

Jan 7, 2021

नगरीय निकाय निर्वाचन हेतु रजिस्ट्रीकरण एवं अपीलीय अधिकारी नियुक्त
कलेक्टर श्री वर्मा ने जारी किया आदेश
मुरैना 07 जनवरी 2021/कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने मध्यप्रदेश नगर पालिका निर्वाचन नियम के अनुक्रम में नगरीय निकायों के निर्वाचन हेतु एक जनवरी 2021 की तिथि के आधार पर फोटोयुक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनरीक्षण के लिये रजिस्ट्रीकरण एवं सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तथा अपीलीय अधिकारी नियुक्त किया है। स्थानीय निर्वाचन शाखा से मिली जानकारी के अनुसार नगरीय निकायों में मतदाता सूची का वार्षिक पुनरीक्षण 2021 की प्रक्रिया प्रस्तावित है।
जानकारी के अनुसार नगर पालिका परिषद सबलगढ़ के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सबलगढ़, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी नायब तहसीलदार रहेंगे। नगर परिषद पोरसा के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी अम्बाह, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार पोरसा, नगर पालिका परिषद अम्बाह के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी अनुविभागीय अम्बाह और सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार अम्बाह, नगर पालिका निगम मुरैना के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मुरैना, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार मुरैना नियुक्त किये गये है। इन निकायों में अपीलीय अधिकारी अपर कलेक्टर मुरैना होंगे।
नगर परिषद बानमौर के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार बानमौर, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी नायब तहसीलदार श्री सुनील शर्मा होंगे। अपीलीय अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी मुरैना रहेंगे।
नगर परिषद जौरा के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहलसीदार जौरा, सहायक रजिस्टीकरण अधिकारी नायब तहसीलदार जौरा तथा अपीलीय अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व जौरा होंगे।
नगर परिषद कैलारस के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार कैलारस और सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी नायब तहसीलदार कैलारस, नगर परिषद झुण्डपुरा के लिये रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तहसीलदार सबलगढ़, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी नायब तहसीलदार सबलगढ़ होंगे। इन नगरीय निकायों के अपीलीय अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सबलगढ़ होंगे।

शहद उत्पादन के लिये एक दिवसीय कार्यशाला आज
मुरैना 07 जनवरी 2021/ शहद उत्पादन एवं शहद प्रसंस्करण के संबंध में एक दिवसीय कार्यशाला 8 जनवरी को क्षेत्रीय कृषि विज्ञान केन्द्र मुरैना में कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा की उपस्थिति में आयोजित की गई है। कार्यक्रम में जिला व्यापार उद्योग केन्द्र प्रमुख रूप से उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम की रूपरेखा प्रातः 11.30 बजे पंजीयन, 12 बजे से विषय वस्तु का प्रस्तुतीकरण, 12.15 बजे डाॅ. अशोक यादव, 12.30 बजे आशीष भार्गव क्षेत्रीय संचालक एमपी कोन का शहद इकाई के संबंध में प्रस्तुतीकरण, दोपहर 1.15 बजे शहद के संबंध में विस्तार से चर्चा, 1.35 बजे खादी संघ जौरा के सचिव श्री रनसिंह द्वारा उद्घोष, 1.45 बजे क्षेत्रीय विज्ञान केन्द्र के प्रभारी श्री एमपी सिंह द्वारा उद्बोधन, 1.50 बजे कलेक्टर के द्वारा विस्तार से प्रस्तुतीकरण तथा 2.30 बजे प्रश्नसार पर चर्चा होगी।

ईव्हीएम गोडाउन का मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की उपस्थिति में कलेक्टर ने किया निरीक्षण
मुरैना 07 जनवरी 2021/राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशन में प्रति दो माह में ईव्हीएम गोडाउन का निरीक्षण मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की उपस्थिति में करना है। निर्देशों के तहत कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा ने गुरूवार 7 जनवरी 2021 को नवीन ईव्हीएम गोडाउन में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों की उपस्थिति में अपने समक्ष ताले खुलवाकर निरीक्षण किया। निरीक्षण में पिछले वर्ष की रखी ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपैट, बीयू, सीयू का अवलोकन किया। इसके बाद अपनी उपस्थिति में ही ईव्हीएम गोडाउन को सभी के हस्ताक्षर कराकर सील किया। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एलके पाण्डे, ईव्हीएम गोडाउन के प्रभारी कार्यपालन यंत्री श्री एसके वर्मा सहित राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

किसी पोल्ट्री में बर्डफ्लू का प्रमाण नहीं, अतः बंद नहीं होंगी माँस दुकानें
मुरैना 07 जनवरी 2021/ प्रदेश के पोल्ट्री फार्मों और बैकयार्ड कुक्कुट में किसी प्रकार से मुर्गियों में अप्राकृतिक मृत्यु की सूचना नहीं मिली है। इसलिये माँस की दुकानों पर बिक्री संबंधित कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है। ये दुकानें पूर्ण सावधानी एवं सतर्कता के साथ यथावत खुली रहेंगी। सभी कलेक्टरों को निर्देश दिये गये हैं कि कुक्कुट-पालकों और व्यावसाइयों के साथ बैठक कर बर्ड फ्लू से बचाव, पोल्ट्री फार्मों में साफ-सफाई और जन-सामान्य को कुक्कुट उत्पादों को अच्छी तरह से पकाकर उपयोग में लाने की जानकारी दें। पशुपालन मंत्री श्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा है कि कौओं में पाया जाने वाला वायरस एच5एन8 है, जबकि मुर्गियों में सामान्यतः वायरस एच5एन1 होता है। कुक्कुट-पालकों, व्यवसाइयों और लोगों को बर्ड फ्लू के विरुद्ध जागरूक किया जा रहा है। सभी जिलों को भारत सरकार की एडवाइजरी के अनुसार कार्यवाही, सतर्कता और सावधानी बरतने के निर्देश दिये गये हैं।
अपर मुख्य सचिव पशुपालन श्री जे.एन. कंसोटिया ने सभी जिलों के उप संचालक पशु चिकित्सा को बर्ड फ्लू से बचाव और नियंत्रण के संबंध में बॉयो सिक्यूरिटी मापदण्ड का पालन सभी कुक्कुट प्रक्षेत्रों, कुक्कुट बाजारों आदि में सुनिश्चित करने निर्देश दिये। श्री कंसोटिया ने निर्देश दिये कि यदि कहीं कोई कौआ या पक्षी मृत पाया जाता है, तो तत्काल सैम्पल भारतीय उच्च सुरक्षा रोग अनुसंधान प्रयोगशाला, भोपाल को भेजें। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक केवल 3 जिलों केवल इंदौर, मंदसौर और आगर-मालवा में ही वायरस की पुष्टि हुई है। प्रदेश के सभी जिलों में बर्ड फ्लू कंट्रोल-रूम की स्थापना की गई है। भोपाल में राज्य-स्तरीय कंट्रोल-रूम का क्रमांक 0755-2767583 है। सूचना मिलते ही रेपिड रिस्पांस टीम द्वारा त्वरित कार्यवाही की जा रही है। मुर्गियों, कौवों, प्रवासी पक्षियों आदि में असामान्य मृत्यु, बीमारी की सूचना मिलते ही तत्काल सैम्पल इकट्ठा कर उसका डिस्पोजल, डिसइन्फेक्शन और सेनेटाइजेशन आदि किया जा रहा है।
आज विद्युत सप्लाई बंद रहेगी
मुरैना 07 जनवरी 2021/ मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लि. मुरैना के उपमहाप्रबंधक ने बताया कि 33 केव्ही एवं 11 केव्ही लाईनों पर कार्य एवं मेन्टेनेंस कार्य होने के कारण 8 जनवरी को सुबह 11 से दोपहर 3 बजे 33 केव्ही देवरी एवं 11 केव्ही सिद्धनगर फीडरों से संबंधित उपभोक्ताओं की विद्युत सप्लाई बंद रहेगी।

रोगी कल्याण समिति की बैठक 11 जनवरी को
मुरैना 07 जनवरी 2021/ कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा की अध्यक्षता में रोगी कल्याण समिति की बैठक न्यू कलेक्ट्रेट सभागार एबी रोड़ मुरैना में 11 जनवरी को दोपहर 1 बजे आयोजित की गई है। बैठक में समिति के सदस्य उपस्थित रहना सुनिश्चित करें।

जिला स्तरीय रोजगार मेला 14 जनवरी को पाॅलीटेक्निक काॅलेज मुरैना में
मुरैना 07 जनवरी 2021/ जिला स्तरीय रोजगार मेला जिला रोजगार कार्यालय के सहयोग से 14 जनवरी को शासकीय पाॅलीटेक्निक काॅलेज मुरैना में प्रातः 11 बजे प्रारंभ होगा। इस रोजगार मेले में 15 कंपनियां बेरोजगार युवकों का चयन करेंगी। जिसमें शिवशक्ति वायोटेक्नोलाॅजी इंदौर, स्टार हेल्थ इश्योंस कंपनी मुरैना, गिन्नी फिलामेंट लिमि. मथुरा, काव्या इन्टरप्राइजेज ग्वालियर, यशस्वी अकेडमी फोर टेलेन्ट मैनेजमेन्ट, ईगल सिक्युरिटी सर्विस शिवपुरी, भारतीय जीवन बीमा निगम मुरैना, मोन्टेज इंडस्ट्रीज प्रा.लि. मालनपुर, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस ग्वालियर, जमुना आॅटो इण्डस्ट्रीज मालनपुर, भिण्ड, मैसर्स वैक्टस इंडिया लिं. बानमौर, बीआर आॅयल्स बानमौर, अम्बा शक्ति उद्योग बानमौर, सिरियल एग्रोटेक इंडिया बानमौर और प्रकाश पैकेजिंग यूनिट बानमौर कंपनी बेरोजगार युवकों का चयन करेंगी।
रजिस्ट्रीकरण, नवीनीकरण के लिए आवेदन ऑनलाईन करें
शुल्क भी निर्धारित
मुरैना 07 जनवरी 2021/मध्यप्रदेश दुकान एवं स्थापना अधिनियम 1958 के अंतर्गत प्रदत्त पंजीकरण एवं नवीनीकरण शुल्क म.प्र. राज्य शासन की अधिसूचना दिनांक 8 मार्च 2019 के माध्यम से जिन स्थापनाओं में एक से तीन कर्मचारी कार्यरत हैं, उनके लिए रजिस्ट्रीकरण, नवीनीकरण शुल्क दौ सौ रूपये एवं जिन स्थापनाओं में तीन से अधिक कर्मचारी हैं उन स्थापनाओं, रजिस्ट्रीकरण शुल्क 250 रूपये निर्धारित किया गया है।
रजिस्ट्रीकरण, नवीनीकरण के लिए आवेदन श्रमायुक्त विभाग के पोर्टल ूूूण्संइवनतण्उचण्हवअण्पद पर ऑनलाईन किया जा सकता है। इस संबंध में स्पष्ट किया गया है कि जिन स्थापना संचालकों द्वारा 15 फरवरी 2014 के पश्चात स्थापना का रजिस्ट्रीकरण, नवीनीकरण प्राप्त किया गया है, उन स्थापनाओं का नवीनीकरण कराये जाने की आवश्यकता नहीं है।

सीएम हेल्पलाईन शिकायतों के शीघ्र निराकरण हेतु शिकायतों के प्रारूप में परिवर्तन की सुविधा
मुरैना 07 जनवरी 2021/सीएम हेल्पलाईन पोर्टल के अंतर्गत दर्ज शिकायतों के शीघ्र निराकरण के लिए मप्र शासन द्वारा शिकायतों के प्रारूप में परिवर्तन किए जाने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। मप्र शासन के राजस्व विभाग के अवर सचिव द्वारा सभी संभागायुक्त और कलेक्टर्स को इस संबंध में निर्देश दिए गए हैं।
सीएम हेल्पलाईन पोर्टल के अंतर्गत शिकायत के प्रारूप में परिवर्तन करने की सुविधा में संशोधन कर समस्त लेवल अधिकारियों एल-1, एल-2, एल-3 तथा एल-4 को दर्ज शिकायतों के प्रारूप में परिवर्तन करने की सुविधा प्रदान की जा रही है। जिससे शिकायतों का निराकरण समय सीमा में हो सकेगा। इस संबंध में सभी अधीनस्थ अधिकारियों, कर्मचारियों को अवगत कराते हुए शिकायतों के निराकरण के लिए प्राथमिकता से कार्यवाही करने तथा शिकायकर्ता की संतुष्टि उपरान्त शिकायतें गुणवत्तापूर्वक बंद करने हेतु निर्देशित किए जाने के लिए कहा गया है। साथ ही एल-3 तथा एल-4 पर मान्य, अमान्य के लिए लंबित शिकायतों का भी प्राथमिकता के साथ निराकरण कराए जाने के लिए कहा गया है।

मुख्यमंत्री श्री च©हान ने बर्ड फ्लू के प्रति सजग रहने के निर्देश दिये
र¨ग शमन के लिये अलर्ट जारी
भारत सरकार की एडवाइजरी के अनुसार रखी जा रही पूरी सतर्कता अ©र सावधानी
मुरैना 07 जनवरी 2021/मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह च©हान ने निर्देश दिये हैं कि मध्यप्रदेश में मुर्गिय¨ं में पाए जाने वाले संक्रामक र¨ग बर्ड फ्लू से बचाव, र¨कथाम अ©र नियंत्रण के पूरे प्रयास किये जायें। भले ही मध्यप्रदेश में ऐसे मामले नहीं आये हैं, फिर भी एहतियातन सभी सावधानियां बरती जाएं।
मुख्यमंत्री श्री च©हान ने बुधवार क¨ प्रातः निवास पर वरिष्ठ अधिकारिय¨ं के साथ बैठक की जिसमें राज्य में बर्ड फ्लू से बचाव, र¨कथाम अ©र नियंत्रण के प्रयास¨ं की समीक्षा की। वर्तमान में प्रदेश में ऐसी समस्या नहीं है, एहतियातन आवश्यक कदम उठाए गए हैं। इनमें भारत सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस से जिल¨ं क¨ अवगत करवाया गया है। दक्षिण भारत के केरल सहित सीमावर्ती राज्य¨ं से सीमित अवधि के लिए प¨ल्ट्री प्रतिबंधित रहेगा। यह अस्थाई र¨क एहतियातन लगाई गई है। प्रदेश के कुछ स्थान¨ं कुछ क©व¨ं की मृत्यु की सूचना के बाद सावधानी के त©र पर ये कदम उठाया गया है। जिन जिल¨ं से ऐसे समाचार मिले हैं, वहां र¨ग ह¨ने की पुष्टि भारतीय उच्च सुरक्षा र¨ग अनुसंधान प्रय¨ग शाला (छप्ैभ्।क्) से प्रतीक्षित है। इसके पहले सावधानी के त©र पर सम्पूर्ण प्रदेश में र¨ग के नियंत्रण अ©र शमन के लिये अलर्ट जारी किया गया है। मुख्यमंत्री श्री च©हान ने जिल¨ं में गाइडलाइन का पालन करवाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही पशुपालन विभाग अ©र सहय¨गी विभाग¨ं एवं एजेंसिय¨ं क¨ इस मामले में सजग रहने, रेंडम चेक करने अ©र आमजन क¨ आवश्यक जानकारी देने के निर्देश दिए। उन्ह¨ंने कहा कि जहां से पक्षिय¨ं की मृत्यु की जानकारी मिली है, सावधानी के त©र पर प¨ल्ट्री फार्म पर भी नजर रखी जाए। बैठक में बताया गया कि प्रदेश में बर्ड फ्लू की प्रतिदिन की स्थिति से भारत सरकार क¨ अवगत करवाया जा रहा है। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव पशुपालन श्री जे.एन. कंस¨टिया, अपर मुख्य सचिव ल¨क स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण श्री म¨हम्मद सुलेमान अ©र अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
प्रमुख बिन्दु
कुछ जिल¨ं में क©व¨ं की मृत्यु का समाचार मिलने पर सैम्पल एकत्रीकरण अ©र र¨ग की र¨कथाम अ©र नियंत्रण के लिये कार्रवाई की गई। बर्ड फ्लू र¨ग उदभेद करने वाले जिल¨ं में कलेक्टर मार्गदर्शन में पशुपालन, वन, स्वास्थ्य अ©र स्थानीय निकाय के सम्नवित प्रयास¨ं से जरूरी कार्यवाही तत्काल की गई है। भारत सरकार की एडवाइजरी के अनुसार सतर्कता रखी जा रही है। वर्तमान में सिर्फ क©व¨ं में बर्ड फ्लू के भ्5छ8 वायरस के संक्रमण की जानकारी मिली है। यह वायरस मुर्गिय¨ं में नहीं पाया गया है। जिल¨ं में विभागीय दल जलाशय¨ं, कुक्कुट प्रक्षेत्र¨ं, कुक्कुट बाजार¨ं में सघन निगरानी रख रहा है। बर्ड फ्लू संदर्भ में जन जागरूकता के लिये कुक्कुट पालक¨ं अ©र व्यवसायिय¨ं क¨ इस र¨ग से बचाव के लिये आवश्यक जानकारियां दी की जा रही है।
मध्यप्रदेश के जिल¨ं में प¨ल्ट्री फार्म अ©र बैकयार्ड कुक्कुट में किसी भी प्रकार से मुर्गिय¨ं में अप्राकृतिक मृत्यु की सूचना प्राप्त नहीं हुई है। जिल¨ं में पशुपालन विभाग का अमला संपूर्ण सतर्कता बरत रहा है। क©व¨ं या मुर्गिय¨ं में बीमारी या अप्राकृतिक मृत्यु की सूचना प्राप्त ह¨ने पर तत्काल सैंपल एकत्र कर प्रय¨गशाला भेजने की कार्यवाही की जाती है। संक्रमित स्थान का डिस इन्फेक्शन अ©र सैनिटाइजेशन जिले के स्थानीय निकाय के सहय¨ग से किया जाता है। इस प्र¨ट¨काल से सर्व संबंधित¨ं क¨ अवगत करवाया गया है। ज¨ ल¨ग मांसाहार करते हैं, उनके लिए यह सावधानी जरूरी है कि मुर्गिय¨ं क¨ अच्छे से पका कर उपय¨ग करें, इससे मानव स्वास्थ्य क¨ किसी प्रकार का खतरा नहीं है, अभी तक ऐसा क¨ई प्रकरण भी नहीं आया है, परंतु सावधानी अ©र सतर्कता की आवश्यकता है।

चंबल संभाग में 138 और गौशालायें स्वीकृत
मुरैना 07 जनवरी 2021/प्रदेश के गौवंश को संरक्षण देने के लिये चालू माली साल के दौरान चंबल संभाग के मुरैना, भिण्ड और श्योपुर जिले में 290 गौशालाओं के निर्माण का लक्ष्य राज्य सरकार द्वारा दिया गया है, इसमें से 138 गौशालाओं के निर्माण कार्य की स्वीकृति दी गई है।
चंबल संभाग के कमिश्नर श्री आशीष सक्सेना ने पशुपालन विभाग के हवाले से बताया है कि सर्वाधिक 130 गौशालाओं का निर्माण लक्ष्य भिण्ड जिले को दिया गया है। मुरैना को 120 गौशालाओं का और श्योपुर जिले में 40 गौशालाओं का निर्माण लक्ष्य दिया है। इन सभी 290 गौशालाओं में से 138 गौशाला निर्माण की स्वीकृति दी गई है। इनमें से मुरैना जिले में लक्ष्य 120 में से 69, भिण्ड जिले में 130 में से 34 और श्योपुर जिले में प्राप्त लक्ष्य 40 में से 35 गौशालाओं का निर्माण की स्वीकृति दी गई है।
पशुपालन विभाग के संभागीय संयुक्त संचालक श्री अशोक सिंह तोमर ने बताया कि संभाग में 51 गौशालायें संचालित है, जिनमेें मुरैना में 20, भिण्ड में 17 और श्योपुर जिले में 14 गौशालायें है। इन 51 संचालित गौशालाओं में 90 बोरवेल काम कर रहे है। 38 गौशालाओं में विद्युत व्यवस्था की गई है। संभाग में पंजीकृत 67 गौशालायें है, इनमें मुरैना में 20, भिण्ड में 31 और श्योपुर जिले में 16 गौशालायें है। इन 67 पंजीकृत गौशालाओं में 90 चेफकटर, 90 आॅव्हरहेड टेक, 57 सवमर्सिबल पम्प, 82 चारागाह विकास स्थल बनाये गये है। निर्माणाधीन गौशालाओं में 21 गौशालाओं में छत स्तर, 72 में प्लिन्थ स्तर, 39 में दीवार स्तर का कार्य किया जा चुका है। संचालित गौशालाओं में 3 हजार 255 गौवंश संरक्षित किये गये है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort