• Sun. May 29th, 2022

नवयुग कन्या महाविद्यालय लखनऊ के संस्कृत विभाग द्वारा चलाई जा रही ऑनलाइन व्याख्यानमाला

Byadmin

Nov 30, 2020

नवयुग कन्या महाविद्यालय लखनऊ के संस्कृत विभाग द्वारा चलाई जा रही ऑनलाइन व्याख्यानमाला के अंतर्गत आज दिनाङ्क-30.11.2020 को महाकवि कालिदास जयंती सप्ताह समारोह के उपलक्ष में विशिष्ट व्याख्यान का आयोजन किया गया व्याख्यान का विषय था – महाकवि कालिदास के साहित्य में प्रतिबिंबित सामाजिक समस्याएं आज के प्रमुख वक्ता प्रोफेसर ओम प्रकाश पांडे जी रहे जो निवर्तमान आचार्य एवं अध्यक्ष संस्कृत तथा प्राकृत भाषा विभाग लखनऊ विश्वविद्यालय लखनऊ रहे ।प्रोफेसर पांडे जी ने अपने वक्तव्य में बताया की तत्कालीन समाज में भी बहुत सी ऐसी सामाजिक समस्याएं थे जो आज भी हमें देखने को मिलती हैं और जिनका चित्रण कालिदास ने अपने काव्य में किया है उसमें मुख्य रूप से अवैध परित्यक्त एवं अनाथ संतान या बच्चों की समस्या को को शकुंतला तथा भरत आदि उदाहरणों से स्पष्ट किया नारी की गरिमा की समस्या को विशेष रुप से शकुंतला का उदाहरण देते हुए प्रकाश डाला और नारी के अधिकारों की सुरक्षा इसके साथ नारी का नव वैधव्य वेदना इन समस्याओं को तथा गौतमी आदि का उदाहरण देते हुए वृद्ध आश्रम की समस्या पर भी कालिदास के साहित्य को उद्धृत किया। प्रोफेसर पांडे ने इस बात पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संतान के पालन पोषण के लिए आश्रम या वनवास उपयुक्त नहीं है उन्होंने गृहस्थ जीवन की संस्तुति की है विवाह के संबंध में उन्होंने कहा कि विवाह बराबर गुणों से युक्त संबंध में ही होना चाहिए स्त्रियां प्राचीन काल में भी कितना तप आदि करती थी उसका उदाहरण उन्होंने पार्वती की तपस्या आदि से उद्धृत किया।

इस व्याख्यान मे देश के अनेक प्रान्तों विदेश आदि से श्रोतागण
मौजूद रहे।इस अवसर पर संस्कृत विभाग की अध्यक्ष डा. रीता तिवारी ने सभी का स्वागत किया ।प्राचार्या डा. सृष्टि श्रीवास्तव,ने धन्यवाद ज्ञापन किया । डा.सीमा सरकार, डा.संगीता शुक्ला, डा अंजुला सिंह, डा. अपूर्वा अवस्थी, डा. अन्दलीब जेहरा, डा. अंजुला, डा.वासुदेवन राज गोपालन , डा. महेंद्र पाठक, शिव प्रसाद बंसल, नीलिमा अग्रवाल ,संदीप सूद और सभी छात्राएं उपस्थित रहीं।

संपादक

सी बी मणि त्रिपाठी

बलरामपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort