• Tue. Jun 28th, 2022

पहले भूखे पेट को दिया सहारा,अब उखडती सांसो को आक्सीजन दे रहा है युवा समाजसेवी…

Byadmin

May 18, 2021

पहले भूखे पेट को दिया सहारा,अब उखडती सांसो को आक्सीजन दे रहा है युवा समाजसेवी…

एसएससी ग्रुप ऑफ कंपनीज के एमडी धीरेंद्र प्रताप सिंह धीरू कोरोना काल में कार्य कर रहे लोगों को दे रहे हैं सेनीटाइजर एंव एन 95 मार्क्स।

कोरोना कि दूसरी लहर में जब पूरे देश में ऑक्सीजन की कमी से लोगों की सांसें उखड़ रही हैं तो इस महामारी के दौर में कुछ ऐसे भी लोग निकलकर सामने आए हैं जिन्होंने अपने सेवा भाव से समाज के सामने एक नई मिसाल पेश की है।
ऐसे ही एक समाजसेवी हैं बलरामपुर जिले के धीरेंद्र प्रताप सिंह धीरू जिन्होंने पहले कोरोना काल में हजारों भूखे लोगों को पेट भर भोजन कराया और सैकड़ो गरीब परिवारों को राशन वितरित कर उनके घरो में चूल्हे जलवाए। आज वही कोरोना की दूसरी लहर में पीडितों को ऑक्सीजन देकर उन्हें नई जिंदगी देने के प्रयास में जुटे हैं। कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए समाजसेवी धीरेंद्र प्रताप सिंह ने जिला प्रशासन से ऑक्सीजन प्लांट लगाने की अनुमति मांगी थी। औपचारिताओ में देरी और ऑक्सीजन की त्वरित मांग को देखते हुए धीरेंद्र प्रताप सिंह ने अपने खर्चे पर आक्सीजन सिलेंडर भरवाकर जरूरत मंदो की मदद करने का फैसला किया। धीरेंद्र प्रताप सिंह प्रतिदिन जिला प्रशासन को 40 से 50 ऑक्सीजन सिलेंडर अपने खर्चे से उपलब्ध करवा रहे हैं। ये ऑक्सीजन सिलेंडर प्रतिदिन अंबेडकर नगर के टांडा से भरवाकर मंगाया जा रहा है। इन आंक्सीजन सिलेंडर की मदद से भर्ती मरीजों की जिंदगी को बजाया जा रहा है। इसके अतरिक्त धीरेंद्र प्रताप सिंह ने स्वास्थ्य विभाग को 10 लाख कीमत के 10 नए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराएं हैं। इन आक्सीजन कन्सट्रेटर को जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित अस्पतालों में लगाया जा रहा है जिससे ग्रामीण जनता को तुरंत आक्सीजन की सुविधा उपलब्ध हो सके। एसएससी ग्रुप आफ कम्पनीज के चेयरमैन धीरेन्द्र प्रताप सिंह कोरोना की पहली लहर में ही अपने कार्यों को लेकर चर्चा में आए। पहले लाकडाउन के दौरान बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए उन्होंने लंगर चलाया जिसमें प्रतिदिन हजारों लोग भोजन ग्रहण करते थे। यह लंगर कई महीनों तक चलता रहा। पहले लॉकडाउन के दौरान गैर प्रांतों में फंसे बलरामपुर के सैकडों श्रमिकों को उन्होंने आर्थिक मदद करके उनके घरों तक पहुंचाया था। उसी दौरान हजारों परिवारों को उन्होंने राशन किट वितरित करके भूख से तड़पते लोगों को बड़ा सहारा दिया था। कोरोना की दूसरे लहर में भी इस युवा समाजसेवी ने जिले के हर व्यक्ति तक ऑक्सीजन पहुंचाने का संकल्प लिया है। धीरेंद्र प्रताप सिंह धीरू का कहना है कि उनकी कोशिश है कि बलरामपुर जिले के किसी भी व्यक्ति की मौत ऑक्सीजन की कमी से ना हो। कोरोना महामारी में अपने कार्यों से चर्चा में आए समाजसेवी धीरेंद्र सिंह के कार्यों की भूरि भूरि प्रशंसा की जा रही है। समाज के लिए इनके कार्य प्रेरणादायक साबित हो रहे हैं।
सीएमओ डॉ विजय बहादुर सिंह का कहना है कि युवा समाजसेवी धीरेंद्र प्रताप सिंह एक मसीहा के रूप में सामने आए हैं जो न सिर्फ ऑक्सीजन सिलेंडर देकर कोरोना संक्रमित मरीजों को जीवन दान देने में जुटे हैं बल्कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर देकर उन्होंने कोरोना की इस लड़ाई में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया और स्वास्थ्य विभाग के मनोबल को बढ़ाया है। सीएमओ ने कहा कि समाज के अन्य लोगों को इन से प्रेरणा लेने की जरूरत है।

संपादक

सी बी मणि त्रिपाठी

बलरामपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort