• Sun. May 29th, 2022

बाल अपराध

Byadmin

Jul 20, 2021

:-: बाल अपराध :-:
सन 1863 से 1998 तक कनाडा में चर्च द्वारा संचालित आवासीय व्यवस्था थी,जिसमें बच्चों को उनके माता पिता से अलग कर दिया जाता था।कनाडा के आवसीय रोमन कैथोलिक बोर्डिंग स्कूल में खुदाई के दौरान 1000 और कनाडा के ही 1978 में बंद हो चुके कमलूप्स इंडियन रेसिडेंशियल स्कूल में 215
से ज्यादा बच्चों के शव पाए गए,जिनके साथ शारीरिक शोषण हुआ था।इसके साथ ही करीब 1.50 लाख बच्चों के साथ शारीरिक उत्पीड़न और बलात्कार के मामले सामने आए,जिनमें से 4100 बच्चों की मृत्यु भी हुई।हमारे देश में सन 1860 से लेकर 19 वी सदी तक इसी तरह के आवासीय विद्यालयों में आदिवासियों के लाखों बच्चों को डिक्टेशन कैम्प बनाकर रखा गया ,जहाँ उनके साथ शारिरिक और मानसिक शोषण किया गया और फ़िर अपने इस अपराध को छुपाने और भारतीयों को आपस में लड़वाने के लिये, इन सब का आरोप ब्राह्मणों पर लगाकर मनगढ़त कहानियां बना दी गई।कनाडा की तरह ही हमारे देश में इस तरह के विद्यालयों की खुदाई कर जांच की जाये,जिससे सच सामने आ सके।इतने महत्वपूर्ण इतिहास से,आम जनता को अनिभिज्ञ रखने वाले,महापुरुषों पर कार्यवाही हो,जिससे मृतक बच्चों की आत्मा को शांति मिलें।जीत सत्य की ही होगी।
धन्यवाद :- बदला नहीं बदलाव चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort