• Sat. Jun 25th, 2022

राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान उत्तर प्रदेश का भव्य पुरस्कार एवं वृत्त चित्र कार्यक्रम संपन्न

Byadmin

Dec 6, 2020

राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान उत्तर प्रदेश का भव्य पुरस्कार एवं वृत्त चित्र कार्यक्रम संपन्न

लखनऊ स्थित उर्दू अकादमी प्रेक्षागृह में राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा आयोजित लेख /कहानी/ काव्य प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को पुरस्कृत एवं सम्मानित किया गया । अजय कुमार मिश्र, नीतू कनौजिया ,आलोक कुमार मिश्रा, कुमार निर्मलेदुं, मोइन अंजुम सिद्धकी, संतोष कुमार को लेख हेतु पुरस्कृत किया गया और करुणा शंकर, सुजाता वीरेश, रामराज भारती, गीता कैथल, महावीर सुरेंद्र मोहन को कहानी हेतु पुरस्कृत किया गया।

जबकि कविता हेतु उमाशंकर यादव, रेनू वर्मा ,चंद्र देव दीक्षित, गिरजा शंकर दुबे, सीमा गुप्ता और राजेंद्र कुमार सक्सेना को पुरस्कृत किया गया ।इसके अतिरिक्त डॉ रश्मिशील को प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री पवन कुमार, आईएएस, भाषा विभाग द्वारा कहा गया कि श्री जयशंकर मिश्र तथा डॉ हरिओम दोनों कल्चरल एंबेसडर का कार्य कर रहे हैं। वही जाने-माने साहित्यकार एवं सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी श्री जयशंकर मिश्र जिनके ऊपर वृत्त चित्र प्रदर्शन का कार्यक्रम संपन्न हुआ उनके द्वारा वक्तव्य दिया गया कि साहित्यकार आसमान को और भी ऊपर उठाने का कार्य कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान के तत्वाधान में आयोजित इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे संस्थान के अध्यक्ष डॉ हरिओम के सानिध्य में आज संस्थान नई ऊंचाइयों को छू रहा है ।

डॉ हरिओम कार्यक्रम में बोले साहित्य समाज का सॉफ्टवेयर होता है ,जो समाज का निर्माण करता है। जो बाहर का ज्ञान होता है उसका अंश किताब में होता है ।जितना साहित्यकार कहता है उसे कितना आचरण मे लाता है वह महत्वपूर्ण है ।निश्चित रूप से डॉ हरिओम न सिर्फ एक उत्कृष्ट प्रशासक है बल्कि साहित्य जगत को एक नई दिशा भी प्रदान कर रहे हैं। राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान के महामंत्री दिनेश चंद्र अवस्थी इस अवसर पर समाज को साहित्यिक ऊंचाइयों पर पहुंचाने में साहित्यकारों की सराहनीय भूमिका पर प्रकाश डालें। वही संस्थान के समस्त पदाधिकारियों की कर्मठता की प्रशंसा संस्थान के अध्यक्ष डॉ हरिओम ने किया।

राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा प्रत्येक वर्ष लेख/ कहानी और कविता में राज्य कार्मिकों को पुरस्कृत और सम्मानित किया जाता है और प्रत्येक वर्ष देश के किसी साहित्यकार राज्यकर्मी के ऊपर वृत्तचित्र का प्रदर्शन भी कराया जाता है ।राज्य कर्मचारी साहित्य संस्थान द्वारा आज अनेक कार्यक्रमों के माध्यम से साहित्य को एक नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया जा रहा है।

संपादक

सी बी मणि त्रिपाठी

बलरामपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort