• Wed. May 25th, 2022

(विधानसभा उपनिर्वाचन 2020) पांचों विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे

Byadmin

Nov 3, 2020

(विधानसभा उपनिर्वाचन 2020)
पांचों विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे
1 हजार 726 मतदान केन्द्र बनाये गये
674 क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर सी.ए.पी.एफ. का बल तैनात
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ जिले में आज होने वाले विधानसभा उपनिर्वाचन में पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करंेगे। मतदाताओें के लिये अपने मतदान करने के लिये 1 हजार 726 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये है। इन मतदान केन्द्रों में चिन्हित किये गये 674 मतदान केन्द्रों पर सी.ए.पी.एफ. का बल तैनात किये गये है।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने बताया कि मुरैना जिले की पांचों विधानसभा क्षेत्रों में 11 लाख 77 हजार 308 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इनमें 6 लाख 41 हजार 994 पुरूष, 5 लाख 35 हजार 268 महिला और 46 हजार अन्य मतदाता है। इसके लिये मुरैना जिले की पांचों विधानसभा क्षेत्रों के लिये 1726 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये है।
विधानसभा क्षेत्र 04 जौरा के 2 लाख 44 हजार 65 मतदाताओं के लिये 370 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 05 सुमावली के 2 लाख 40 हजार 628 मतदाताओं के लिये 348 मतदान केन्द्र स्थाापित किये है। 06 मुरैना के 2 लाख 54 हजार 682 मतदाताओं के लिये 376 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 07 दिमनी के 2 लाख 14 हजार 969 मतदाताओं के लिये 315 मतदान केन्द्र स्थापित किये है। 08 अंबाह विधानसभा क्षेत्र के 2 लाख 22 हजार 964 मतदाताओं के लिये 317 मतदान केन्द्र स्थापित किये है।
कलेक्टर श्री वर्मा ने बताया कि मतदान शान्तिपूर्ण संपन्न कराने के लिये जिले में 1726 मतदान केन्द्रों पर 8 हजार 984 कर्मचारी लगाये गये है। इसके साथ ही पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 133 सेक्टर आॅफीसर, 260 माईक्रो आॅब्जर्वर, 674 क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर सीएपीएफ का बल तैनात रहेगा। उन्होंने बताया कि 1726 मतदान केन्द्रों में से अधिकतर मतदान केन्द्र सीसीटीव्ही कैमरे की निगरानी में जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि जिसमें माॅनीटरिंग बराबर की जायेगी। उन्होंने बताया कि 3 नवम्बर को पांचों विधानसभा क्षेत्र की सीमायें सील रहेंगी। बाहरी व्यक्तियों को प्रवेश पाने के लिये रोको टोको एवं रजिस्टर में नाम, मोबाइल नम्बर, पता आदि की जानकारी संकलित की जायेगी। इसके साथ ही माईक्रो आब्जर्वर मतदान में ही उपस्थित होकर वहां घटित होने वाले प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखेगा और पल-पल की जानकारी भी संकलित करेगा। मतदाता की श्रेणी के अंतर्गत 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाता, दिव्यांग मतदाता तथा कोविड-19 संक्रमित मतदाता को डाक मतपत्र से मत देने के लिए शामिल किया गया है। पूर्व में सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही डाकमत पत्र से मतदान करने की सुविधा थी।
पाॅलिंग एजेन्ट की उपस्थिति में सुबह 5.30 बजे होगा माॅकपोल
भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 3 नवम्बर 2020 को प्रातः 5.30 बजे पाॅलिंग एजेन्ट की उपस्थिति में माॅकपोल मतदान दल करेंगे। माॅकपोल के दौरान कम से कम दो दलों के एजेन्ट उपस्थित रहें। उन्होंने कहा कि दिखावटी मतदान के बाद ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपैट मशीन से समस्त रिकाॅर्ड खाली किया जाये। वास्तविक मतदान प्रातः 7 बजे से प्रारंभ होगा।

सामग्री वितरण स्थल पर ईव्हीएम का दिया प्रशिक्षण
पाॅलीटेक्निक काॅलेज पर जो पाॅलिंग पार्टियां रवाना हो रहीं थी। उन्हें कलेक्टर की उपस्थिति में ईव्हीएम का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। जो लोग प्रशिक्षण प्राप्त करने में ईव्हीएम मशीन के बारे में संका सोच रहे थे, उनका भी बारी-बारी से समाधान मास्टर ट्रेनर्स ने किया।
पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया ने कहा कि उपनिर्वाचन शान्तिपूर्ण संपन्न कराने के लिये पुलिस बल पर्याप्त मात्रा में प्राप्त हुआ है। जिसमें 674 क्रिटिकल मतदान केन्द्रों पर सीएपीएफ बल तैनात रहेगा। नाॅर्मल मतदान केन्द्रों पर भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये है। इनके अलावा पुलिस की 133 मोबाइल टीम, सेक्टर आॅफीसर की टीम लगातार मतदान केन्द्रों पर भ्रमण करती रहेंगी। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 15 से 20 मिनिट के अंदर यह अधिकारी सतत संपर्क मतदान दलों से बनाये रखेंगे।
मतदान केन्द्र के अंदर किसी प्रकार की वीडियोग्राफी नहीं होगी
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 3 नवम्बर को मतदान केन्द्र के अंदर किसी भी प्रकार की वीडियोग्राफी नहीं होगी। मात्र फोटोग्राफी की जा सकती है। जो भी वोटिंग कम्पाउन्ट की नहीं।
मतदान केन्द्र के 100 मीटर की परिधि में मोबाइल पर प्रतिबंध रहेगा
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मतदान केन्द्र की 100 मीटर की परिधि में किसी भी प्रकार का मोबाइल एलाउ नहीं होगा, केबल पाॅलिंग पार्टी ही मोबाइल मतदान केन्द्र में रख सकेगी। एजेन्ट मतदान केन्द्र के 200 मीटर की परिधि में पर्ची बांटने का बूथ नहीं बना सकेंगे और अगर पर्ची वितरण करते है तो उस पर्ची पर किसी भी प्रकार का चुनाव चिन्ह नहीं होना चाहिये।
मतदान दिवस के दिन वाहन मूवमेन्ट नहीं होगा
पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया ने बताया कि 3 नवम्बर को मतदान के दिन वाहन मूवमेन्ट बंद रहेगा। केबल हाईवे के वाहनों को छोड़कर। जिले में वाहनों का मूवमेन्ट प्रतिबंधित रहेगा।
मतदाता को कोई शिकायत करनी हो तो इस नम्बर पर फोन करें
पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया है कि यदि किसी मतदाता को शिकायत दर्ज करानी है तो टोल फ्री नम्बर 1950 पर अपनी बात रख सकते हैं। साथ ही इस टोल फ्री नम्बर से चुनाव संबंधी जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है। इसके अलावा मतदाता बटपळपस् एप भी डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप पर फोटो, वीडियो इत्यादि अपलोड कर शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। सी-विजिल पर प्राप्त शिकायतों का समाधान 100 मिनट के भीतर किया जाता है।

शहरी मतदान केन्द्रों पर दो पुरूष एवं दो महिलायें रहेंगी मतदान दल में
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री तरूण भटनागर ने नगरीय निकाय के अधिकारियों को निर्देश दिये है कि विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 मंे नगरीय क्षेत्र के मतदान केन्द्रों पर पाॅलिंग पार्टी मंे 2 पुरूष एवं 2 महिलायें शामिल रहेंगी। महिलाओं को ध्यान में रखते हुये मतदान केन्द्र पर दो रूम का प्रबंध किया जाये। जिसमें 1 रूम में पुरूष एवं दूसरे रूम में महिलाओं को रखा जाये। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में जो महिलायें मतदान दल में लगेंगी, वे महिलायें पूरी सुरक्षा के साथ मतदान केन्द्र पर रूकंेगी। उन्हें किसी रिश्तेदार के यहां नहीं जाने दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि हो सकता है, वो महिला किसी रिश्तेदार के यहां रूकने के लिये जाने चाहती है, वो किसी जनप्रतिनिधि या किसी पार्टी दल से सम्बन्धता रखता हो।
विधानसभा उपचुनाव की सभी तैयारियां पूर्ण
मतदान दल ईव्हीएम लेकर सुरक्षा के साथ अपने मतदान केन्द्रों के लिये रवाना
सेक्टर अधिकारियों, सेक्टर मजिस्ट्रेटों और पैट्राॅलिंग वाहन वायर लैस से सुसज्जित
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। मतदान दल मतदान सामग्री एवं ईव्हीएम लेकर सुरक्षा के साथ अपने-अपने मतदान केन्द्रों के लिये रवाना हो गये है। सेक्टर अधिकारियों, सेक्टर मजिस्ट्रेटों और पैट्राॅलिंग वाहनों को वायरलैस से सुसज्जित किये गये है।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने बताया कि स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिये निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार हर मतदान केन्द्र पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किये गये है। पुलिस अधीक्षक श्री अनुराग सुजानिया ने बताया कि शान्तिपूर्ण मतदान संपन्न कराने के लिये 21 कंपनियां आ चुकी है। इसके अलावा संभाग स्तर पर पुलिस बल प्राप्त हुआ है। कुल मिलाकर 8 हजार से अधिक पुलिस बल सभी 1 हजार 726 मतदान केन्द्रों पर तैनात रहेगा। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से विधानसभा क्षेत्रों में व्यवस्थायें चाक-चैबंद रहेगी।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री वर्मा ने बताया कि पाॅलीटेक्निक काॅलेज से जौरा, मुरैना, सुमावली विधानसभा क्षेत्र के लिये सामग्री और दिमनी, अंबाह विधानसभा की सामग्री केन्द्रीय विद्यालय जींगनी से वितरित की गई। सभी मतदान दल पूरी सुरक्षा के साथ अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंच चुके है

सीमा सीलिंग की गई
चंबल रेन्ज के पुलिस महानिरीक्षक श्री मनोज शर्मा ने बताया कि मुरैना के ग्राम गुढ़ाचंबल, थाना देवगढ़ से जिला धौलपुर के पुलिस थाना बसईडांग के रास्ता से व्यक्तियों के आवागमन पर निगरानी रखने के लिये अस्थाई पुलिस चैकी कायम की गई है। चैकी पर आवागमन करने वालों का विधिवत रिकाॅर्ड संधारण, निगरानी हेतु बाॅर्डर एरिया पर सीसीटीव्ही कैमरे एवं वीडियोग्राफी का उपयोग किया जा रहा है। आज मतदान के दिन नदी घाटों पर प्रायवेट नावों का संचालन बंद किया गया है। क्राॅस बाॅर्डर एरिया में गांवों के सीमावर्ती जिले के एस.डीएम, तहसील स्तर के अधिकारी तैनात किये गये है। मोबाइल फोन एवं वायरलैस कनेक्टिविटी चैक करने, गांव स्तर पर पैट्राॅलिंग व्यवस्था की गई है। चंबल नदी की जलीय सीमाओं में भी नाव के माध्यम से पैट्राॅलिंग की जा रही है। बाहरी लांेगो के प्रवेश पर रोक लगाई गई है। वाहनों की चैकिंग कर मोटरयान अधिनियम के अन्तर्गत कार्रवाही की जा रही है।
1726 मतदान केंद्रों पर उपलब्ध होगी कोविड संक्रमण से बचाव की सामग्री
मुरैना 02 नवम्बर 2020/मुरैना जिले की पांचो विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव के लिए आगामी 3 नवंबर को सभी 1726 मतदान केंद्रों पर कोविड-19 की गाइड लाइन के तहत कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सामग्री वितरण केंद्र, स्ट्रांग रूम, मतगणना, वाहन व्यवस्था एवं अन्य निर्वाचन कार्य हेतु तैनात अधिकारी, कर्मचारियों के लिये कोविड-19 से बचने के लिये मास्क, सैनेटाइजर, ग्लव्स, थर्मल स्क्रीनिंग की सुविधा उपलब्ध रहेगी।
वहीं मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं को बिना लाइन के मत डालने की सुविधा मिलेगी। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर गोल घेरे बनाये जायेंगे। उन गोल घेरों पर खड़े होकर मतदान करने की सुविधा मिलेगी।

चंबल संभाग के कमिश्नर श्री आर.के. मिश्रा ने की मतदान की अपील
मुरैना 02 नवंबर 2020/चंबल संभाग के कमिश्नर श्री आर.के. मिश्रा ने सभी मतदाताओं से मतदान करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि 3 नवंबर के दिन विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 के लिये मतदान का आयोजन किया गया है। इसमें सभी नागरिक उल्लास एवं उत्साहपूर्वक बढ़ चढ़कर भाग लें और लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अपने मताधिकार का प्रयोग करें। कमिश्नर ने कहा है कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार बीते दिनों में प्रशासन के सहयोग से संभाग में जिला एवं तहसील स्तर पर मतदाताओं को जागरूक करने के लिये कई रचनात्मक कार्यक्रम आयोजित किये गये। पिछले विधानसभा निर्वाचन में जिन क्षेत्रों में मतदान का प्रतिशत सबसे कम रहा है उन क्षेत्रों में विशेष रूप से मतदाता जागरूकता अभियान चलाकर मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिये महत्वपूर्ण प्रयास किये गये। उन्होंने सभी मतदाताओं से स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं नैतिक मतदान करने की अपील की है।
उन्होंने बताया है कि विधानसभा उनिर्वाचन 2020 में दिव्यांग मतदातओं एवं वृ़द्धजनों की सुविधाओं का भी विषेष ध्यान रखा गया है जिसके तहत मतदान केन्दªों पर पर्याप्त बैठने की व्यवस्था, रैम्प, पेयजल आदि का समुचित प्रबंध किया गया है ताकि मतदाताओं को असुविधा न हो। साथ ही दिव्यांग मतदाताओं के लिये घर से घर तक की सुविधा प्रदान की जा रही है। सुरक्षा की दृष्टि से भी सुरक्षा बल पूर्ण रूप से सक्रिय एवं मुस्तैद है ताकि मतदान केन्द्रों पर कोई भी असंतोषजनक एवं अप्रिय स्थिति निर्मित न हो और मतदाता निर्भीक होकर अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें। उन्होंने कहा कि सभी मतदाता उपनिर्वाचन 2020 में अपना नैतिक मतदान अवश्य सुनिश्चित करें। साथ ही अपने परिजनों, मित्रों एवं आस पास के मतदाताओं को भी मतदान करने के लिये प्रेरित करें।
कोविड से बचाव के लिये मतदान केन्द्रों पर सैनेटाइज, मास्क, हेण्डग्लव्स रहेंगे उपलब्ध
चंबल संभाग के कमिश्नर श्री मिश्रा ने कहा कि सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 के बचाव के लिये सैनेटाइजर, मास्क, हेण्डग्लव्स उपलब्ध रहंेगे। मतदान केन्द्रों पर 2 गज की दूरी बनाये रखने हेतु गोले बनाये गये है। अगर किसी मतदाता का टेम्प्रेचर गन द्वारा नापे जाने पर सामान्य तापमान 36.1 डिग्री सेल्सियस से 37.2 डिग्री सेल्सियस अथवा 97 से 99 एफ से अधिक पाया जाता है तो ऐसे मतदाता के तापमान की 10 मिनिट बाद पुनः पुष्टि की जायेगी। पुनः पुष्टि करने के बाद भी तापमान अधिक बने रहने पर ऐसे मतदाताओं को मतदान के लिये नियत अंतिम घंटे में मतदान के लिये आने की सलाह दी जायेगी।
मुरैना जिले की 5 विधानसभा और भिण्ड जिले की 2 विधानसभा क्षेत्रों में 16.62 लाख मतदाताओं के लिये 2 हजार 431 मतदान केन्द्र स्थापित किये गये है। इन सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 से बचाव के लिये 26 हजार 260 स्प्रे सैनेटाइजर, 4 हजार 82 पीपीई किट, 3 हजार 890 थर्मल स्क्रीनिंग, 45 हजार 526 फैस शील्ड एवं 1 लाख 37 हजार फैस मास्क का उपयोग होगा। कोई भी मतदाता डरे नहीं। इसके अलावा 10 लाख 15 हजार 82 ग्लव्स, 11 हजार 405 साबुन की बट्टी, 2 हजार 431 मेडीकल डस्टबिन की व्यवस्था की गई है।
पुलिस उपमहानिरीक्षक श्री मनोज शर्मा ने बताया है कि प्रत्येक मतदाता पूरी तरह से निर्भय निडर होकर मतदान करें। मतदान केन्द्रों पर शान्ति सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किये गये है।

हर मतदाता को स्वतंत्र एवं भयमुक्त वातावरण में मिलेगा मत के प्रयोग का अधिकार- कलेक्टर
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ प्रत्येक मतदाता को मताधिकार के प्रयोग हेतु स्वतंत्र एवं भयमुक्त वातावरण उपलब्ध कराने हेतु जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने मुरैना जिले की पांचों विधानसभा क्षेत्रों में मतदान 3 नवंबर को होना है। मतदान के प्रति मतदाताओं को भययुक्त वातावरण उपलब्ध कराने की प्रतिबद्धता एवं तैयारियों को प्रदर्शित करने हेतु मतदान प्रक्रिया को सुव्यवस्थित रूप से संपन्न कराने हेतु पर्याप्त संख्या में सुरक्षा बल मौजूद है। हर मतदाता स्वतंत्रता पूर्वक अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकें इस हेतु व्यवस्थाएँ दुरुस्त रखी जाएँगी, किसी भी प्रकार की आशंका, संदेह अथवा शिकायत प्राप्त होने पर प्रभावी कार्रवाही की जाएगी।
इस दौरान सभी मतदाताओं को यह भी संदेश दिया जा रहा है कि विधानसभा क्षेत्र जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी और अंबाह के सभी मतदाता स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुए निर्भीक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभाभित हुए बिना उप निर्वाचन में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। इस दौरान कोरोना से बचाव हेतु सावधानियों का अनिवार्य रूप से पालन कर निर्वाचन प्रक्रिया को निर्विघ्न सम्पन्न कराने हेतु मतदाताओं से आह्वान किया गया।
मतदान के दिन 3 नवम्बर को मजदूरों को वोट देने के लिये संवैतनिक अवकाश
श्रमायुक्त ने संबंधित प्रतिष्ठानों के लिये जारी किये आदेश
मुरैना 02 नवम्बर 2020/श्रमायुक्त द्वारा 03 नवम्बर को होने वाले उपचुनाव में कामगारों को सवैतनिक अवकाश प्रदान करने के निर्देश सभी नियोक्ताओं को दिए गए हैं।
मध्यप्रदेश दुकान एवं स्थापना अधिनियम-1958 के तहत दुकान और वाणिज्य संस्थानों के कामगारों को मतदान सुविधा के दृष्टिगत नियोजक और प्रबंधक दुकान अथवा संस्थान को साप्ताहिक निर्धारित दिन पर बंद अथवा अवकाश नहीं रखते हुए मतदान दिवस पर बंद अथवा अवकाश रखेंगे। जिन दुकान अथवा संस्थाओं के बंद का दिन निर्धारित नहीं है, वे अपने कामगारों को बारी-बारी से मतदान की अनुमति देंगे। सभी नियोजकों, अधिभोगीगणों और प्रबंधकों को उक्त प्रावधान का कड़ाई से पालन करने के लिए निर्देशित किया गया है।
उल्लेखनीय है कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 135-बी के तहत निर्वाचन के दौरान मतदान दिवस में किसी भी कारोबार, व्यवसाय, औद्योगिक उपक्रम अथवा अन्य किसी भी स्थापना में नियोजित प्रत्येक व्यक्ति को मतदान करने के लिए सवैतनिक अवकाश प्रदान करने का प्रावधान है, जिसके तहत दैनिक वेतन, आकस्मिक श्रमिक भी मतदान दिवस पर मजदूरी सहित अवकाश के हकदार होंगे। कामगारों की अनुपस्थिति से कोई खतरा अथवा सारवान हानि की संभावना वाले नियोजन में उक्त प्रावधान लागू नहीं होगा।

पाॅलिंग पार्टी सुरक्षित अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर पहुंची
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ विधानसभा उपनिर्वाचन 3 नवम्बर को होगा। जिसमें मुरैना जिले की पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 1726 मतदान केन्द्र बनाये गये है, जिसमें सभी मतदान केन्द्रों पर पाॅलिंग पार्टियां सुरक्षित पहुंच चुकी है। यह जानकारी सेक्टर आॅफीसरों द्वारा जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रदान की है।
सुरक्षित मतदान कराने के लिये 8 लाख 65 हजार ग्लव्स, फैस मास्क, 10 हजार 358 पी.पी.ई. किट प्राप्त
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ जिले की जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी और अंबाह में कोविड-19 से सुरक्षित मतदान कराने के लिये प्रत्येक मतदान केन्द्रों पर कोविड से बचाव के लिये आयोग द्वारा विभिन्न सामग्रियों का प्रदाय किया गया है।
कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने बताया कि सभी मतदान केन्द्रों पर निर्वाचन से एक दिन पूर्व सैनेटाइज किया जायेगा। कलेक्टर ने बताया कि आयोग द्वारा जिले के 1 हजार 726 मतदान केन्द्रों के लिये अभी तक 21 हजार 560 स्प्रे सैनेटाइजर की बोतलें भेजी गई है। चुनाव कराने के लिये 10 हजार 358 पीपीई किट, 2 हजार 390 थर्मल स्क्रीनिंग (टेम्प्रेचर गन), 51 हजार 680 फैस शील्ड अधिकारियों, कर्मचारियों के लिये एक लाख 9 हजार 5 फैस मास्क एन-95 मतदाताओं के लिये 8 लाख 65 हजार मास्क, 8 लाख 65 हजार दायने हाथ के ग्लव्स भेजे गये है। अधिकारियों, कर्मचारियों को 56 हजार 880 रबर ग्लव्स सभी मतदान केन्द्रों पर एक-एक सावुन की बट्टी और ढ़क्कन वाला कबर्ड बायोमेडिकल डस्टबिन का वितरण किया जा रहा है।
पांचो विधानसभा क्षेत्रों में 8 हजार 984 कर्मचारी चुनाव कार्य में लगे
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 के लिये मतदान 3 नवम्बर को प्रातः 7 से सायं 6 बजे तक होगा। इसके लिये पांचो विधानसभा क्षेत्र में 1726 मतदान केन्द्रों के लिये 8 हजार 984 कर्मचारियों का चयन किया गया है, जिसमंे मतदान केन्द्रांे के लिये 6 हजार 904 मतदान कर्मी लगाये जायेंगे। शेष 30 प्रतिशत कर्मचारी रिजर्व के तौर पर मौके पर तैनात रहेंगे। विधानसभा क्षेत्र जौरा में 1924, सुमावली में 1812, मुरैना में 1956, दिमनी में 1640 और अंबाह विधानसभा क्षेत्र में 1652 कर्मचारी मतदान कार्य में लगाये जायेंगे।
यह जानकारी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने दी है। उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्र में 2 पुरूष, 2 महिला रहेंगी। महिलाओं को रूकने के लिये जिला प्रशासन ने पर्याप्त एवं पूरी सुरक्षा के साथ रूकने की व्यवस्था की है। सभी मतदान कर्मी निडर होकर मतदान करायें, प्रत्येक मतदान केन्द्र पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये है।

3 नवम्बर को सामान्य अवकाश रहेगा
मुरैना 02 नवम्बर 2020/विधानसभा उप निर्वाचन 2020 हेतु विधानसभा क्षेत्र में मतदान 3 नवम्बर को सम्पन्न होगा। जिले के सभी मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करें इसे दृष्टिगत रखते हुऐं एतद दिवस को जिले मतदान में भाग लेने वाले सभी शासकीय, अर्द्धशासकीय, प्राईवेट, दैनिक वेतनभोगी, संविदाकर्मी, आम मजदूर का सवैतनिक अवकाश स्वीकृत किया जाता है। सभी संस्था, प्रतिष्ठान के प्रमुख इन निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करें।

संभाग स्तर पर कंट्राॅल रूम गठित
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ मुरैना की 5 विधानसभा क्षेत्रों और भिण्ड जिले की 2 विधानसभाओं में 3 नवम्बर 2020 को होने वाले विधानसभा उपचुनाव की जानकारियों को आदान-प्रदान करने के लिये संभाग स्तरीय कंट्राॅल रूम स्थापित किया है।
अपर आयुक्त श्री अशोक कुमार चैहान ने बताया कि संभाग स्तरीय कंट्राॅल रूम का नम्बर 07532-232900 है। कंट्राॅल रूम 3 नवम्बर को 24 घंटे संचालित रहेगा। कंट्राॅल रूम में उपसंचालक पंचायत श्री अशोक कुमार निम, अतिरिक्त सहायक आयुक्त विकास श्री अरविन्द शर्मा, अधीक्षक श्री सुबोध कुमार गुप्ता, निर्वाचन प्रभारी श्री सुरेश चन्द्र मित्तल, स्टेनो प्रदीप पाराशर सुबह 10.30 बजे से सायं 5 बजे तक उपस्थित रहेंगे। इसके अलावा कंट्राॅल रूम में 3-3 कर्मचारियों की ड्यूटी 8-8 घंटे के लिये लगाई गई है।

चुनाव के दौरान आवश्यकता पड़ने पर इन नम्बरों पर करें संपर्क
मुरैना 02 नवम्बर 2020/ विधानसभा उपनिर्वाचन 2020 के लिये मतदान 3 नवम्बर को होगा। मतदान के दौरान आवश्यकता पड़ने पर इन नम्बरों पर संपर्क किया जा सकता है। इसके लिये रिटर्निंग आॅफीसर जौरा श्री नीरज शर्मा का मोबाइल नम्बर 9826248644, सुमावली विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आॅफीसर श्री उमेश प्रकाश शुक्ला का मोबाइल नम्बर 9425118891, मुरैना विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आॅफीसर श्री आरएस बाकना का मोबाइल नम्बर 9575631919, दिमनी विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आॅफीसर श्री संजीव जैन का मोबाइल नम्बर 9425136071 और अंबाह विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग आॅफीसर श्री राजीव समाधिया का मोबाइल नम्बर 7747005151 पर संपर्क कर सकते है।

प्रत्येक मतदाता से स्वतंत्र एवं निर्भीक मतदान करने की अपील
मुरैना 02 नवम्बर 2020/लोकतंत्र में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन प्रक्रिया एक महत्वपूर्ण सोपान है। निर्वाचन प्रक्रिया में राज्य के प्रत्येक वयस्क व्यक्ति का मत महत्वपूर्ण है। मुरैना जिले की जौरा, सुमावली, मुरैना, दिमनी और अंबाह विधानसभा उपनिर्वाचन आज 3 नवम्बर 2020 को सुबह 7 से सायं 6 बजे तक होगा। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग वर्मा ने कहा कि इस उपनिर्वाचन में सहभागिता के लिये जिले की पांचो विधानसभा क्षेत्रों के प्रत्येक मतदाता से स्वतंत्र और निर्भीक होकर मतदान करने की अपील करता हूं।
निर्वाचन प्रक्रिया स्वतंत्र और निष्पक्ष होने के साथ-साथ सुगम और समावेशी भी हो, इस हेतु प्रदेश में इस बार मतदान में मुख्य रूप से दिव्यांग, बुजुर्ग, गर्भवती एवं धात्री महिलाओं के लिये विशेष सुविधायें प्रदान की गई है। मतदान केन्द्रों पर सभी आवश्यक सुविधाओं जैसे छाया, पीने का पानी, शौचालय, छोटे बच्चों के क्रेचेस इत्यादि की व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही विगत विधानसभा निर्वाचन की भांति इस बार भी व्हीव्हीपैट मशीन का उपयोग किया जा रहा है, जिसमें आपके द्वारा डाले गये वोट का सत्यापन आप स्वयं कर सकते है। मतदाताओं को अपने वोटर होने संबंधी जानकारी के सत्यापन एवं अपने मतदान केन्द्र की जानकारी के लिये टोल फ्री नम्बर 1950 एवं वोटर हेल्पलाइन लाईन मोबाइल एप की सुविधा दी गई है। सभी मतदान केन्द्रों पर कोविड-19 से बचाव के लिये पुख्ता प्रबंध किये गये है। मतदाताओं को सैनेटाईज, फैस मास्क, ग्लव्स उपलब्ध कराये जा रहे है।
अतः सभी मतदाताओं से अनुरोध है कि विधानसभा 2020 के उपचुनाव में अपने मतदान केन्द्र पर पहुंचकर शतप्रतिशत मतदान कर लोकतंत्र का मजबूत बनाने में अपनी भागीदारी निभायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort