• Sun. May 22nd, 2022

वीमेन पावर लाइन 1090 द्वारा की गई कार्यवाही

Byadmin

Sep 8, 2021

वीमेन पावर लाइन 1090 द्वारा की गई कार्यवाही

श्री मुकुल गोयल, पुलिस महानिदेशक, उ0प्र0 के निर्देशन में महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन उ0प्र0/वीमेन पावर लाइन 1090 द्वारा निरन्तर कार्य किया जा रहा है, जिसका पर्यवेक्षण अपर पुलिस महानिदेशक, महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन उ0प्र0 द्वारा किया जा रहा है। मिशन शक्ति तृतीय चरण अभियान में साप्ताहिक कार्ययोजना तैयार कर कार्यवाही प्रचलित है।

वर्ष 2021 में वीमेन पावर लाइन 1090 द्वारा अब तक की गई कार्यवाही का विवरण निम्नवत हैः-

वीमेन पावर लाइन 1090 पर वर्ष 2021 में दिनॉकः 01.01.2021 से दिनॉकः      31.08.2021 तक कुल 2,13,555 शिकायतें प्राप्त हुई है, जिनमें से 91,802 शिकायतें अन्य प्रकरणों से सम्बन्धित होने के कारण जनपदीय पुलिस, जीआरपी, यूपी-112 को अन्तरित किया गया है। इनके अतिरिक्त अन्य शिकायते फोन बुलिंग, साइबर बुलिंग आदि से सम्बन्धित है। अब तक लगभग 95 प्रतिशत शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका है। शेष शिकायतें शीघ्र निस्तारण की प्रक्रिया में है।

1090 के साइबर सेल द्वारा प्राप्त शिकायतों के निस्तारण को और अधिक प्रभावी, गुणवत्तापरक एवं समयबद्ध बनाये जाने हेतु सेफ सिटी परियोजना के अन्तर्गत 1090 के साइबर सेल को सुदृढ़ीकृत किया गया है, जिसके अन्तर्गत अत्याधुनिक साइबर फोरेन्सिक टूल्स का उपयोग करते हुये इस प्रकार के शिकायतों का त्वरित निस्तारण किया जा रहा है। दिनॉकः 01.01.2021 से 31.08.2021 तक कुल-36,262 शिकायतें इस सन्दर्भ में प्राप्त हुई है, जिसमें से लगभग 90 प्रतिशत शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका है तथा शेष शिकायतें शीघ्र निस्तारण की प्रक्रिया में है।

01 जुलाई 2020 से दिनॉकः 31.08.2021 तक दर्ज 7,241 शिकायतां में एफएफआर(फैमिली, फ्रेन्डस, रिलेटिव) काउन्सलिंग कर पीड़िता को राहत पहुॅचायी गयी।

हार्ड केसेज में सम्बन्धित थाने में रिपोर्ट प्रेषित कर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराते हुए जून 2020 से अब तक 1090 की विशेष टीम (हार्ड केस कै्रकिंग टीम) द्वारा 13 अभियुक्तों के विरूद्ध कार्यवाही करते हुये 437 शिकायतों का निस्तारण किया जा चुका है।

पारिवारिक विवाद के प्रकरणों में वीमेन पावर लाइन द्वारा आन लाइन फैमिली काउन्सलिंग सेवा का आरम्भ दिनॉकः 17.10.2020 से प्रारम्भ की गयी, जिसमें अब तक 4,514 प्रकरणां में काउन्सलिंग मनोचिकित्सकां/काउन्सलर्स के माध्यम से कराई गयी है।

समय-समय पर विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों के माध्यम से पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित किया जा रहा है। महिला एवं बाल सुरक्षा संगठन उ0प्र0 लखनऊ एवं प्लान इण्डिया द्वारा किशोर न्याय(बालकों के देख-रेख एवं संरक्षण) अधिनियम-2015 पर माह अगस्त में 03 दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन कर प्रशिक्षण की कार्यवाही की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort