• Sat. Jun 25th, 2022

हमलावर

Byadmin

Jun 16, 2022

:-: हमलावर :-:
भारत में भीड़ हमला करें या कोई भीड़ पर हमला करें, दुष्कर्म हो या हत्या,तुरंत ही अपराधी और पीड़ित की जाति, धर्म,सम्प्रदाय,नस्ल सबकुछ बता दिया जाता हैं लेकिन आश्चर्य की बात हैं कि जब इसी तरह के हमले विकसित अमेरिका में होते हैं तो,वहाँ पीड़ित और अपराधी को केवल हमलावर ही कह दिया जाता हैं।भारतीय जातिवाद से सम्बंधित जितनी भी अवधारणाएँ हैं, वह अमेरिकी ग़ुलाम प्रथा का ,भारतीयकरण हैं।संविधान जनित सामान्य जाति ,चाहे कश्मीरी पंडित हो या निर्भया (ब्राह्मण),उनके साथ कोई अपराध होने पर,वह केवल पीड़ित होते हैं लेकिन जैसे ही पीड़ित विशेष वर्ग हो,उनकी जाति, नस्ल,गोत्र,सब चिल्ला चिल्ला कर बताया जाता हैं। यह एक तरह का मानसिक हथियार हैं, जिसके प्रभाव से ,विशेष वर्ग को लगता हैं कि उनके साथ अत्याचार हुआ,और वो तुरन्त ही धर्म परिवर्तन कर लेते हैं। इस खेल में कंधा तो मीडिया का होता हैं, लेकिन बंदूक कोई और चलाता हैं।विजय सत्य की ही होगी।
धन्यवाद :- बदला नहीं बदलाव चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort